breaking news New

Breaking 7 तक मनाया जाएगा फसल बीमा सप्ताह : फसल बीमा रथ को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना, किसान 15 दिसम्बर तक रबी फसल का करा सकते हैं बीमा

Breaking  7 तक मनाया जाएगा फसल बीमा सप्ताह :  फसल बीमा रथ को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना, किसान 15 दिसम्बर तक रबी फसल का करा सकते हैं बीमा

राजनांदगांव ।  जिले में रबी फसल 2021-22 में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का किसानों के मध्य जन जागरूकता एवं अधिक से अधिक किसानों को बीमा आवरण में लाने के लिए आजादी की 75वीं वर्षगॉठ पर भारत का अमृत महोत्सव अभियान के तहत फसल बीमा सप्ताह 1 दिसंबर से 7 दिसंबर 2021 तक मनाया जा रहा है। जिसके अंतर्गत फसल बीमा रथ को हरी झंड़ी दिखाकर रवाना किया गया।

यह फसल बीमा रथ 15 दिसंबर 2021 तक जिले के हर गांवों में जाकर योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार करेंगे। साथ ही योजना के संबंध में किसानों को विस्तृत जानकारी देंगे। कलेक्टर  तारन प्रकाश सिन्हा ने योजना के व्यापक प्रचार-प्रसार एवं फसल बीमा की अंतिम तिथि 15 दिसंबर 2021 तक शत प्रतिशत पात्र किसानों को योजना में शामिल करने के लिए कृषि, राजस्व एवं सहकारिता विभाग के अधिकारियों की ड्यूटी लगाई है। जिनके द्वारा फसल बीमा के संबंध में जानकारी दी जाएगी एवं आवेदन करने में किसानों को सहयोग देंगे।

बीमा हेतु प्रीमियम राशि -

योजना के तहत रबी फसलों के लिए 1.5 प्रतिशत कृषक प्रीमियम राशि निर्धारित है, जिसके अनुसार कृषक द्वारा देय प्रीमियम राशि 536 रूपए चना एवं 555 रूपए गेहूं सिंचित हेतु प्रति हेक्टेयर है। इसी प्रकार कृषक द्वारा गेहूं असिंचित फसल के लिए 303 रूपए तथा अलसी के लिए 206 रूपए प्रति हेक्टेयर की दर से देय होगा।

बीमा कराने के लिए आवश्यक दस्तावेज -

ऋणी किसानों का बीमा संबंधित बैंक एवं सहकारी समिति द्वारा अनिवार्य रूप से किया जाएगा। उन्हें केवल घोषणा एवं बुवाई प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा। आधारकार्ड, बैंक पासबुक, भू-स्वामित्व साक्ष्य (बी-1 पांचसाला), किरायादार, साझेदार कृषक का दस्तावेज, बुवाई प्रमाण पत्र एवं घोषणा पत्र प्रदान कर बीमा करा सकते  हैं।

बीमा कहां कराएं -

किसान फसल बीमा कराने के लिए अपने संबंधित समिति, संबंधित बैंक, बीमा प्रदाय कंपनी (एग्रीकल्चर इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड), लोक सेवा केन्द्र के माध्यम से 15 दिसंबर 2021 तक फसलों का बीमा करा सकते हैं।