एसपी के निर्देश, एएसपी के नेतृत्व में विभाग के लोग बखूबी निभा रहे अपनी जिम्मेदारी

एसपी के निर्देश, एएसपी के नेतृत्व में विभाग के लोग बखूबी निभा रहे अपनी जिम्मेदारी

संजय जैन

धमतरी, 7 अप्रैल। समूचे देश में कोरोना, कोविड-19 से आम लोगों को सुरक्षित करने के उद्देश्य से केंद्र एवं राज्य सरकार लगातार लॉकडाउन का पालन कर सोशल डिस्टेंस बनाकर कार्य किये जाने, साथ ही साथ आम नागरिकों को जरूरत के सामानों की उपलब्धता हेतु निर्धारित समय में खरीदी किये जाने की अपील की जा रही है। तमाम प्रशासनिक अमला द्वारा इसका पालन हेतु समय समय पर आदेश, निर्देश दिये जा रहे हैं। छग पुलिस मुखिया डीजीपी डी एम अवस्थी के निर्देश पर जिला पुलिस अधीक्षक बी पी राजभानू द्वारा अधिनस्थों को लॉकडाउन का पालन नहीं करने वाले शरारती तत्वों, व्यर्थ में घूमने वाले लोगों को समझाईश देकर उन्हें चेतावनी एवं अपील की जा रही है। इस हेतु पुलिस अधीक्षक ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनीषा ठाकुर रावटे को प्रभारी नियुक्त किया है जिनके द्वारा समूचे शहर में पुलिस व्यवस्था की समीक्षा की जा रही है जिसके कारण शहर के वार्डों में पूरी तरह लॉकडाउन का पालन हो रहा है। 

डीजीपी श्री अवस्थी के निर्देश पर पुलिस अधीक्षक श्री राजभानू द्वारा कोरोना वायरस कोविड-19 की रोकथाम के लिये लगातार शासन एवं वरिष्ठ अधिकारियों से मिल रहे दिशा निर्देशों के तहत जिले में लॉकडाउन का पालन कराये जाने हेतु समस्त थाना प्रभारियों को कहा गया है। अपराधी तत्वों, अवैध शराब, जुआ, सट्टा जैसे गैर कानूनी कार्यों में संलिप्त लोगों पर कार्यवाही किये जाने के साथ साथ ऐसे लोग जो अकारण शहर में घूम घूमकर लॉकडाउन का घोर उल्लंघन कर रहे हैं, उन्हें पकड़कर वैधानिक कार्यवाहियां की जा रही हैं। इसी तरह शहर में बाहरी प्रांत से आये व्यक्तियों की खोज खबर लेने हेतु लॉज, धर्मशाला इत्यादि की सघन जांच पड़ताल की जा रही है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनीषा ठाकुर रावटे द्वारा अपने अधिनस्थों के ड्यूटी स्थल पर लगातार निगरानी की जा रही है। चीता स्क्वाड, शक्ति टीम जैसे समूहों में कार्य करने वाले कर्मचारियों की गतिविधियों पर भी विशेष नजर रखी जा रही है ताकि जिले एवं शहर के वार्डों में पुलिस की लगातार उपस्थिति दिखाई दे और आमजन लॉकडाउन का पालन अनिवार्य रूप से करे। धारा 144 समूचे जिले में कलेक्टर रजत बंसल द्वारा पूर्व में लागू की गई है जिसके परिपालन हेतु पुलिस ऐसे समूह जो चार से अधिक संख्या में कहीं भी नजर आते हैं, उन्हें पहले समझाईश दी जाती है। उसके बाद भी अगर ऐसे लोग नहीं मानते हैं तो उन्हें कान पकड़कर उठक-बैठक कराते हुए वचन लिया जाता है तो अब यदि शहर में इस प्रकार समूह में घूमे तो उन पर विभिन्न धाराओं के तहत कार्यवाही की जायेगी।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनीषा ठाकुर रावटे द्वारा प्रतिदिन शहर एवं जिले में होने वाली गतिविधियों की जानकारी पुलिस अधीक्षक बी पी राजभानू को दी जाती है। पुलिस अधीक्षक एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के तालमेल के कारण ऐसे तत्व जो लगातार लॉकडाउन का उल्लंघन कर रहे थे, इनकी सतर्कता से वे सब अब शहर में घूमना बंद कर दिये हैं। इसी के साथ साथ बाहरी प्रांत से आये कुछ लोगों पर भी जानकारी छुपाये जाने को लेकर कोतवाली में दर्ज कराई गई रिपोर्ट के आधार पर कार्यवाही की गई है। एक संक्रमित व्यक्ति द्वारा कोष्टापारा में घूमे जाने की खबर पर भी उस पर वैधानिक कार्यवाही की है। पूर्व में कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी रजत बंसल द्वारा धारा 144 प्रभावशील करते हुए आम लोगों को 7 बजे से 3 बजे तक अपने जरूरी सामान खरीदे जाने की छूट दी गई थी। लेकिन लगातार मिल रही शिकायतों के बाद इस छूट के समय को संशोधित करते हुए 7 बजे से 12 बजे तक किया गया है। इसके बाद सभी लोगों से अपने अपने घरों में निवास करने कहा गया है। शहर के 40 वार्डों में पुलिस कर्मियों की लगातार दस्तक दिये जाने से चौक चौराहों में लगी अनावश्यक समूह की भीड़ भी अब दिखाई नहीं देती है। कलेक्टर रजत बंसल के आव्हान पर समाजसेवी संस्थाओं, संगठनों के लोगों द्वारा जिस प्रकार राहत सामग्री गरीब एवं मध्यम श्रेणी के लोगों को उपलब्ध कराई जा रही है, इसी तर्ज पर पुलिस विभाग द्वारा भी जरूरतमंद, गरीब, बेसहारा लोगों को खाद्य सामग्री पहुंचाई जा रही है। इस प्रकार तालमेल से शहर में अब तक लॉकडाउन का पालन कड़ाई से हो रहा है।