breaking news New

सुनवाई के दौरान आयोग की अध्यक्ष डॉ किरणमयी नायक ने कहा- महिलाओं को जागरूक करें, स्थानीय वालेंटियर्स से लें मदद

सुनवाई के दौरान आयोग की अध्यक्ष डॉ किरणमयी नायक ने कहा- महिलाओं को जागरूक करें, स्थानीय वालेंटियर्स से लें मदद

  रायपुर . छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष डॉ किरणमयी नायक ने आज सूरजपुर जिले के महिलाओं के उत्पीड़न संबंधित प्रकरणों पर जन सुनवाई कलेक्ट्रेट के सभाकक्ष में की। सुनवाई के दौरान सोषल डिस्टेंसिंग व फिजिकल डिस्टेंसिंग एवं सैनिटाईजर का प्रयोग करते हुए कार्यवाही प्रारंभ की गई। उन्होनें सुनवाई के लिए उपस्थित सभी पक्षकारों से चर्चा कर संबंधित प्रकरणों के स्थिति के संबंध में पूछताछ की। निर्धारित 8 प्रकरणों पर सुनवाई करते हुए 4 प्रकरण नस्तीबद्ध, 2 निराकृत, 1 रायपुर एवं 1 प्रकरण कोरिया जिला स्थानांतरित किया गया है। 

    निर्धारित प्रकरणों के अतिरिक्त सुनवाई के दौरान आयोग अध्यक्ष के समक्ष 3 महिलाओं ने आवेदन प्रस्तुत किया जिस पर आयोग से एसपी सूरजपुर को पत्र प्रेषित करते हुए आवष्यक कार्यवाही हेतु निर्देषित किया गया है। इस दौरान क्षेत्र की कुछ बालिकाओं ने स्वेच्छा से महिला उत्थान हेतु वांलिटियर्स का कार्य करने हेतु आवेदन आयोग अध्यक्ष के समक्ष दिया जिसपर सूरजपुर पुलिस को निर्देषित किया गया है, कि क्षेत्र में इस प्रकार सेवा देने वाली बालिकाओं से महिला उत्थान हेतु सहयोग लें। डॉ किरणमयी नायक ने उपस्थित जनों को सम्बोधित करते हुए कहा कि क्षेत्र में जागरूकता की कमी है, जिस कारण उत्पीड़न के मामले ज्यादातर देखे जा रहे है, इस हेतु वालिटियर्स एवं महिला जनप्रतिनिधियों का सहयोग लेकर क्षेत्र में लड़कियों को जागरूक किया जाये कि वे बिना शादी के पुरूष के साथ न रहें। यदि उनके साथ कुछ भी गलत होता है, तो सर्वप्रथम पुलिस से सहायता लें और इसके उपरांत महिला आयोग में आवेदन करें, जिसमें अनावेदक का नाम और स्पष्ट पता दें जिससे उचित कार्यवाही की जा सके। उन्होंने महिलाओं को गंभीर प्रवृत्ति के मामले में रायपुर महिला आयोग आने की समझाईष भी दी है। 

    राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष डॉ किरणमयी नायक ने जिले में संचालित महिला समूह गतिविधियों का निरीक्षण कर अवलोकन किया, जिसमें सर्वप्रथम उन्होनें ग्राम पंचायत मदनपुर में जागृति महिला ग्राम संगठन के द्वारा किये जा रहे प्रिटिंग प्रेस के कार्य का अवलोकन किया, जिनके कार्यो से प्रभावित होते हुए अध्यक्ष डॉ नायक ने मदनपुर के प्रिटिंग प्रेस से महिला आयोग द्वारा स्टेषनरी खरीदे जाने की बात कही है और मौके पर ही संगठन को एक हजार फाईल का पेड आर्डर भी दिया है। 

    इसी क्रम में तेलईकछार ग्राम में माटीकला बोर्ड के कार्यस्थल का निरीक्षण किया जिसमें कार्यरत् समूह की महिलाओं को प्रोत्साहित करते हुए निर्मित सामग्रीयों को ऑनलाईन विक्रय करने हेतु सुझाव दिये है। इसके पष्चात् केनापारा पर्यटन स्थल में महिलाओं द्वारा संचालित बोटिंग सहित अन्य गतिविधियों का निरीक्षण किया। कुंजनगर में मिठी महिला स्वयं सहायता समूह के द्वारा निमाईल (फिनाईल) निर्माण के कार्य का निरीक्षण करते हुए उनके कार्य से काफी प्रभावित हुई और बताया कि सूरजपुर में महिला सषक्तिकरण को एक उदाहरण के तौर पर राज्य स्तर पर फिल्म के माध्यम से प्रदर्षित किया जायेगा जिससे युवाओं और बेरोजगारों को प्रेरणा मिलेगी। अध्यक्ष डॉ. नायक ने सखी वन स्टॉप सेंटर सूरजपुर का आकस्मिक निरीक्षण कियाा। उन्होंने महिलाओं की मदद के लिये हमेषा तत्पर रहने हेतु निर्देश दिए गए एवं सखी के बेहतर कार्य के लिये शुभकामनाएं दी है।