breaking news New

बेअसर रहा नक्सली बंद, 11नकसलियों ने किया आत्मसर्मपण

बेअसर रहा नक्सली बंद,  11नकसलियों ने किया आत्मसर्मपण

सुकमा-सुन्दरराज पी. पुलिस महानिरीक्षक, बस्तर रेंज जगदलपुर (छ.ग.)एवं राजीव कुमार ठाकुर, उप महानिरीक्षक (परिचालन कोंटा रेंज) के मार्गदर्शन एवं सुनील शर्मा पुलिस अधीक्षक सुकमा (छ.ग.), जे.पी. बलई कमांडेन्ट 212 वाहिनी सीआरपीएफ के निर्देशन पर चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत छत्तीसगढ़ शासन की पुनर्वास नीति के प्रचार-प्रसार एवं सुकमा पुलिस द्वारा चलाये जा रहे”पुना नर्कोम अभियान” से प्रभावित होकर नक्सलियों के बाहरी नक्सलियों द्वारा भेदभाव करने तथा स्थानीय आदिवासियों पर होने वाले हिंसा से तंग आकर

प्रतिबंधित नक्सली संगठन से जुड़े 11 नक्सली क्रमशः 01. मिड़ियम हिंगा पिता देवा (नक्सली सदस्य, इंटेलीजेंस शाखा), 02. मड़कम हड़मा पिता देवा (नक्सली सदस्य), 03. मुचाकी सुकड़ा पिता सिंगा (नक्सली सदस्य), 04.मिड़ियम गंगा पिता देवा (नक्सली सदस्य), 05. माड़वी मुदराज पिता दुला (नक्सली सदस्य), 06. सोड़ी मगंडू पिता हुंगा (नक्सली सदस्य), 07. मिड़ियम नन्दा पिता भीमा (डाक्टर कमेटी सदस्य भट्टीगुड़ा आरपीसी), 08. मिडियम हड़मा पिता हुर्रा (सीएनएम सदस्य भट्टीगुड़ा आरपीसी), 09. मड़कम बुद्री पति भीमा (केएएमएस सदस्य भट्टीगुड़ा आरपीसी), 10. सोड़ी मुका पिता हुंगा (मिलिशिया सदस्य), 11. मिडियम देवे पति मल्ला (मिलिशिया सदस्य) सभी साकिनान ग्राम पोलमपल्ली, थाना गोलापल्ली जिला सुकमा  के है जो  कैम्प पैदागुडेम में राजीव कुमार ठाकुर, उप महानिरीक्षक (परिचालन कोंटा रेंज सीआरपीएफ), जे.पी. बलई कमाण्डेन्ट 212 वाहिनी सीआरपीएफ, पी.के. साहू टूआईसी 212 वाहिनी सीआरपीएफ, सचिन्द्र चौबे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कोंटा, परख राजवंशी 212 वाहिनी सीआरपीएफ, विश्वविलाश मलोथ 212 वाहिनी सीआरपीएफ एवं पंकज कुमार पटेल पुलिस अनुविभागीय अधिकारी, मरईगुड़ा  के समक्ष बिना हथियार के आत्मसमर्पण किया । उक्त नक्सलियों को आत्मसमर्पण हेतु प्रोत्साहित करने में 212 वाहिनी सीआरपीएफ का विशेष योगदान रहा,सभी आत्मसमर्पित नक्सलियों को राज्य शासन के पुनर्वास नीति के तहत सहायता राशि व अन्य सुविधायें प्रदाय किया जायेगा।