breaking news New

गुरु तेग बहादुर के 400 साला प्रकाश पर्व पर सिख समाज ने निकाला विशाल नगर कीर्तन

गुरु तेग बहादुर के 400 साला प्रकाश पर्व पर सिख समाज ने निकाला विशाल नगर कीर्तन

बेमेतरा।  गुरु तेग बहादुर के 400 साला प्रकाश पर्व के अवसर पर सिख समाज की ओर से विशाल नगर कीर्तन निकाला गया । पंज प्यारे की अगुवाई में नगर कीर्तन में शामिल समाज के लोगो ने नगर भ्रमण किया ।


किसान नेता योगेश तिवारी ने नगर कीर्तन का शहर के सिग्नल चौक पर पुष्प वर्षा कर स्वागत किया । इस दौरान किसान नेता और उनके समर्थकों ने सिख समाज के लोगो को शीतल पेय, आइसक्रीम और कुल्फी बांटी । इस अवसर पर किसान नेता ने कहा कि संसार को ऐसे बलिदानियों से प्रेरणा मिलती है, जिन्होंने जान तो दे दी, परंतु सत्य का त्याग नहीं किया।

नवम पातशाह श्री गुरु तेग बहादुर जी भी ऐसे ही बलिदानी थे। गुरु जी ने स्वयं के लिए नहीं, बल्कि दूसरों के अधिकारों एवं विश्वासों की रक्षा के लिए अपने प्राणों का उत्सर्ग कर दिया। अपनी आस्था के लिए बलिदान देने वालों के उदाहरणों से तो इतिहास भरा हुआ है, परंतु किसी दूसरे की आस्था की रक्षा के लिए बलिदान देने की एक मात्र मिसाल है-नवम पातशाह की शहादत। विश्व इतिहास में धर्म एवं मानवीय मूल्यों, आदर्शों एवं सिद्धांत की रक्षा के लिए प्राणों की आहुति देने वालों में गुरु तेग बहादुर साहब का स्थान अद्वितीय है।