breaking news New

दीपावली के बाद सटोरिया हुए सक्रिय, विभाग मौन

दीपावली के बाद सटोरिया हुए सक्रिय, विभाग मौन


सट्टा पट्टी के गिरफ्त में आकर युवा बेरोजगार व नाबालिग वर्ग अपने राह से भटकते जा रहे

भानुप्रतापपुर, 26 नवंबर। नगर सहित क्षेत्र में दीपावली पर्व के बाद एक फिर सट्टा पट्टी का कारोबार पूरे सवाब पर है। प्रति दिन खाईवाल एवं उनके एजेंट लाखो रुपये के सट्टा पट्टी लिखे जा रहे है। इसके चलते लोग अपनी गाढ़ी कमाई गवा रहे है, वही अपराध का ग्राफ भी बढ़ रहे है।

प्राप्त सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार भानुप्रतापपुर नगर के चारो ओर खाईवाल एवं उनके एजेंटों के द्वारा खुलेआम सट्टा लिखने का काम कर रहे है। कुछ एजेन्ट घूम-धूम कर यहा तक शासकीय कार्यालयों में जाकर लिखने का काम कर रही है। समय-समय पर सट्टा पट्टी को लेकर समाचार का प्रकाशन किया जाता रहा है, लेकिन खाईवाल के ऊँची पहुच एवं विभाग के निरंतर सहयोग मिलने से इस पर अंकुश लगाने के बजाय कारोबार दिन दुगना व रात चौगनी हो गई है। 


 पुलिस विभाग भी महीनों में छोटे-मोटे एकात केस बनाकर मामले को दबा दिया जाता है कभी भी बड़ी मछली की पकड़ने में दिलचस्पी नही दिखाते है।   यही कारण है कि सटोरिया भी नगर में बेख़ौफ़ होकर सट्टा के अवैध काम मे लगे हुए है। 

सट्टा पट्टी के इस अवैध  कारोबार के गिरफ्त में आकर अधिकांश युवा बेरोजगार,नाबालिग वर्ग अपने भविष्य गवा रहे हैं, वही मारपीट एवं चोरी जैसे वारदात भी बढ़ते जा रहे है।