breaking news New

संक्रमण का खतरा बढ़ने की आशंका : लक्ष्य के विरुद्ध केवल 47 प्रतिशत ही जिलें में कोविड टीकाकरण

संक्रमण का खतरा बढ़ने की आशंका : लक्ष्य के विरुद्ध केवल 47 प्रतिशत ही जिलें में कोविड टीकाकरण

राजकुमार मल

लोगों के कम रूझान से टीकाकरण बन रहीं चुनौती, संक्रमण का खतरा बढ़ने की आशंका,कलेक्टर ने जतायी चिंता

बलौदाबाजार। आम जनता के द्वारा रूचि न लेने के चलते जिले में कोविड टीकाकरण की रफ़्तार लक्ष्य के हिसाब से काफी कम हो गयी है। जिससे जिलें में संक्रमण की आशंका और बढ़ रहीं है। आज जिला मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी डॉ खेमराज सोनवानी ने जानकारी देतें हुए बताया कि जिलें में कुल 10 लाख 273 टीकाकरण का लक्ष्य निर्धारित है। इसके विरुद्ध आज दिनांक तक मात्र 4 लाख 78 हजार 936 लोगों ने ही टीका लगवाया है। जो कि निर्धारित लक्ष्य का मात्र 47 प्रतिशत है। उन्होंने आगें बताया कि इसमें भी केवल 93 हजार 695 व्यक्ति ही ऐसे हैं जिनको दोनों डोज लग चुक है। इससे साफ पता चलता है लोग  वैक्सीन की दूसरी डोज लेने में भी लापरवाही बरत रहें है। डॉ सोनवानी ने आगें बताया की कुल टीकाकरण में सर्वाधिक सँख्या 45 साल से अधिक व्यक्तियों के है। जिससे 2 लाख 15 हजार 132  व्यक्ति शामिल हैं। टीकाकरण को लेकर सबसे अधिक सुस्ती युवा वर्ग में दिखाई पड़ रही हैI इस वर्ग के केवल 1लाख 57 हजार 152 लोगों ने प्रथम डोज एवं मात्र 18 हजार 455 लोगों ने द्वितीय डोज लगवाया है। उन्होंने विकासखण्ड वार जानकारी देतें हुए कहा बलौदाबाजार  के लिए 1 लाख 93 हजार 924 लक्ष्य निर्धारित है। इसके विरुद्ध 1 लाख 5 हजार 360 व्यक्तियों ने टीकाकरण कराया है जो कि लगभग 54 प्रतिशत है। इसी तरह भाटापारा के लिए 1 लाख 62 हजार 30 लक्ष्य निर्धारित है। इसके विरुद्ध 79 हजार 768 व्यक्तियों ने अपना टीकाकरण कराया है। जो कि लक्ष्य के केवल 49 प्रतिशत है।बिलाईगढ़ के लिए 1 लाख 70 हजार 791 लक्ष्य निर्धारित है। इसके विरुद्ध 68 हजार 867 व्यक्तियों ने अपना टीकाकरण कराया है। जो कि लक्ष्य के केवल 40 प्रतिशत है। इसी तरह कसडोल के लिए 1 लाख 65 हजार 628 लक्ष्य निर्धारित है। इसके विरुद्ध 62 हजार 150 व्यक्तियों ने अपना टीकाकरण कराया है। जो कि लक्ष्य के केवल 37 प्रतिशत है। सिमगा के लिए 1 लाख 56 हजार 517 लक्ष्य निर्धारित है। इसके विरुद्ध 95 हजार 45 व्यक्तियों ने अपना टीकाकरण कराया है। जो कि लक्ष्य के केवल 61 प्रतिशत है। पलारी विकासखंड के लिए 1 लाख 51 हजार 378 लक्ष्य निर्धारित है। इसके विरुद्ध 67 हजार 746 व्यक्तियों ने अपना टीकाकरण कराया है। जो कि लक्ष्य के केवल 44 प्रतिशत है। जिले में कोविड टीकाकरण में ब्लॉक अनुसार आंकड़ों को देखें तो सिमगा छोड़ कर किसी की भी उपलब्धि संतोषजनक नहीं मानी जा सकती। चार विकासखंडों भाटापारा,बिलाईगढ़ ,कसडोल,पलारी में उपलब्धि आधी भी नहीं है। इससे यह अंदाजा लगाया जा सकता है लोग टीकाकरण एवं कोरोना संक्रमण को लेकर कितना चिंतित है।

60 टीकाकरण केंद्रों में सतत टीका सीएमएचओ ने बताया की जिले में इस समय 60 साईट टीकाकरण हेतु चल रहे हैं एवं टीका भी पर्याप्त संख्या में उपलब्ध है। 30अगस्त की स्थिति में जिले में 13 हजार 530 कोविशील्ड एवं 2 हजार 650 कोवैक्सीन का डोज उपलब्ध है।टीका की खपत के अनुसार जिले को इसका आबंटन होता जाता है। उन्होंने सभी जिला वासियों से आग्रह किया है,की जिन लोगों ने अभी भी टीकाकरण नही कराया है वे शीघ्र ही अपनें नजदीकी टीकाकरण केंद्र में जाकर टीका अवश्य लगाये।

लोगों के कम रूझान से टीकाकरण बन रहीं चुनौती, संक्रमण का खतरा बढ़ने की आशंका,कलेक्टर ने जतायी चिंता

कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने जिलें में धीमी गति से टीकाकरण पर गहरी चिंता जतायी है। उन्होंने कहा महज 47 प्रतिशत टीकाकरण तीसरी लहर की आशंकाओं को बढ़ा सकती है। वर्तमान समय मे हमें कोरोना के साथ ही जीना है। अतः कोरोना के दुष्प्रभाव से बचना है तो कोविड का टीकाकरण अवश्य कराए इसमें किसी भी तरह लापरवाही एवं अपवाहों से बचें। कोविड का टीकाकरण पूरी तरह सुरक्षित है। उन्होंने आज सभी जिला वासियों से आग्रह किया है,की जिन लोगों ने अभी तक टीकाकरण नही कराया है वे शीघ्र ही अपनें नजदीकी टीकाकरण केंद्र में जाकर निःशुल्क टीका अवश्य लगाये। साथ ही सभी जनप्रतिनिधि गण,युवा वर्ग एवं महिला स्व सहायता समूह टीकाकरण हेतु लोगों को अनिवार्य रूप से प्रेरित करें |