breaking news New

साठ गाँठ में चल रहा अवैध पत्थल की खुदाई व ढुलाई, दुकानों में हो रहे अवैध लकड़ी की सप्लाई, वन अमला दे रखी है मौन सहमति

 साठ गाँठ में चल रहा अवैध पत्थल की खुदाई व ढुलाई,  दुकानों में हो रहे अवैध लकड़ी की सप्लाई, वन अमला दे रखी है मौन सहमति

सूरजपुर। सूरजपुर वन मंडल क्षेत्र में अवैध रूप से पत्थल की ढुलाई,  अवैध इमारती लकड़ियों को फर्नीचर दुकानों में बेचा जा रहा है तो वही लकड़ी मिल अवैध लकड़ियों को खुले आम बेच रहे हैं। और  जंगलों से बड़े पैमाने पर अवैध पत्थल की खुदाई खुले आम करके ट्रेक्टर से पत्थल क्रेशर में सप्लाई की जा रही है। और सूरजपुर रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर कमीशन खोरी ,  व्यस्त है। 

गौरतलब है कि सूरजपुर जिला मुख्यालय से लगे ग्राम सोनपुर, बेल टिकरी, केतका देवीपुर, लांची, देवीपुर समेत आस पास  वन परिक्षेत्र के जंगलों में बड़े पैमाने पर अवैध पत्थल की खुदाई पत्थल माफियाओं द्वारा खुले आम की जा रही है जिन पर खनिज विभाग वन विभाग के द्वारा इन पत्थल माफियाओं पर कार्यवाही करने में हाथ पांव फूलने लगते है। 

वहीं सूरजपुर जिला मुख्यालय में स्थित फर्नीचर दुकानों कास्ट लेखा पंजी में कितने लकड़ी कहा से लाया गया इन्हें कहा खपाया गया है। तो वहीं सूरजपुर में स्थित लड़की मिल में अवैध रुप से लकड़ी आरा में कटाई होने के लिए सैकड़ो टन आ रहे है। जिन पर वन अमला द्वारा कार्यवाही करने में हाथ पांव फूलने लगते हैं। स्थानीय नगर वासियों के मानना है कि वन अमला नाम भर का है किसी तरह से अवैध पत्थल माफिया जंगलों में पहाड़ों के नीचे जेसीबी लगाकर  खुले आम खुदाई करती है।

और वन विभाग को मौखिक सूचना देने के बाद भी किसी तरह से कोई कार्यवाही नही की जाती हैं। इस तरह से अवैध उत्खनन से आने वाले दिनों में पहाड़ पूरी तरह से नष्ट हो जाएगा जिसका जिम्मेदार वन विभाग होगा। ऐसे में देखा जा सकता है जिसका काम वन सम्पदा की रक्षा करने का दायित्व है वे खुद ही भक्षक बन कर बैठे हुए है।