breaking news New

सीएम की बैठक में भिलाई के नवनिर्वाचित पार्षदों ने एक स्वर में कहा- सामान्य वर्ग का हो भिलाई का महापौर

सीएम की बैठक में भिलाई के नवनिर्वाचित पार्षदों ने एक स्वर में कहा- सामान्य वर्ग का हो भिलाई का महापौर

रमेश गुप्ता भिलाई। नगर निगम भिलाई में महापौर को लेकर राजधानी रायपुर तक हलचल मची हुई है। प्रदेश के सीएम भूपेश बघेल के साथ शनिवार को हुई बैठक में भिलाई निगम के नव निर्वाचित पार्षदों ने एक राय में कहा है कि महापौर का चयन इस बार सामान्य वर्ग से ही होना चाहिए। इसे लेकर पार्षदों की राय है कि चूंकि निगम में महापौर का पद अनारक्षित है। इसलिए यहां सामान्य वर्ग के पार्षद को ही महापौर बनाया जाना चाहिए। सीएम बघेल ने भी बैठक में सभी पार्षदों की बातें सुनी हैं और आश्वस्त भी किया है। 

बता दें नगर पालिक निगम भिलाई के चुनाव संपन्न होने के बाद कांग्रेस पार्टी को यहां बहुमत मिला है। भिलाई निगम के 70 वार्डों में से 37 वार्डों में कांग्रेस के पार्षद चुनकर आए हैं। वही भारतीय जनता पार्टी को 24 वार्डों में जीत मिली है। निर्दलीय प्रत्याशी 9 वार्डों में जीत पाए हैं। भिलाई निगम में बड़ी जीत के साथ ही यहां महापौर व सभापति कौन होगा इसे लेकर उत्सुकता बढ़ गई है। हालांकि कुछ ऐसे चेहरे हैं जो महापौर की रेस में सबसे आगे हैं और भिलाई नगर विधायक देवेन्द्र यादव के चहेते हैं।

बताया जा रहा है कि भिलाई निगम सहित चारों निगमों में महापौर कैंडिडेट मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पसंद का होगा। इस बीच सभी निकायों के लिए पर्यवेक्षकों की नियुक्ति भी कर दी गई है। पर्यवेक्षक सभी निकायों में पार्षदों की राय लेंगे। हालांकि यह भी कहा जा रहा है कि आखिरी निर्णय सीएम भूपेश् बघेल का होगा। चर्चा के बीच भिलाई निगम में कुछ वार्ड के पार्षद ऐसे हैं जो महापौर के दावेदार हैं। उनमें सबसे आगे सेक्टर 5 पूर्व वार्ड क्रमांक 60 से पार्षद नीरज पाल व सेक्टर 7 वार्ड क्रमांक 66 से पार्षद लक्ष्मीपति राजू हैं। इन दोनों पार्षदों का विधायक देवेन्द्र यादव का काफी करीबी माना जाता है। पिछले कार्यकाल में जब महापौर देवेन्द्र यादव अवकाश पर होते थे तब प्रभारी महापौर के तौर पर नीरज पाल की यह जिम्मेदारी संभालते रहे हैं। ऐसे में इनकी दावेदारी को पुख्ता माना जा रहा है।

इसी प्रकार वार्ड 66 सेक्टर -7 से पार्षद निर्वाचित लक्ष्मीपति राजू कांग्रेस कद्दावर पार्षदों में गिने जाते हैं। जब से निगम का गठन हुआ है तब से वे लगातार इस क्षेत्र से जीतकर आ रहे हैं। लक्ष्मीपति राजू को लेकर भी कहा जा रहा है कि वे महापौर के प्रबल दावेदार हैं। इसी प्रकार सेक्टर-10 वार्ड 65 से पार्षद चुनी गई तेज तर्रार महिला नेत्री सुभद्रा सिंह का नाम भी महापौर के दावेदारों में शामिल हैं। वार्ड 70 हुडको से निर्वाचित सीजू एंथोनी का नाम भी महापौर के दावेदारों में है। सीजू भी कांग्रेस के कद्दावर नेताओं में एक माने जाते हैं। 


इसके अलावा पहली बार चुनाव मैदान में उतरे आदित्य सिंह,संदीप निरंकारी, व एकांश बंछोर के नाम भी महापौर के दावेदारों में शामिल है। अब देखना यह है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इनमें से किसे अपना चेहरा बनाते हैं। एक ओर जहां माना जा रहा है कि सीएम कैंडिडेट भूपेश बघेल की पसंद का होगा वहीं यह भी कयास लगाए जा रहे हैं कि एमआईसी मेंबर व सभापति भिलाई नगर विधायक देवेंद्र यादव की पसंद के हो सकते हैं। चुनाव में देवेंद्र यादव ने अकेले लीड करते हुए बहुमत हासिल किया। उसे देखते हुए पार्टी स्तर पर उनका कद काफी बढ़ गया है। इस वजह से भी इन कयासों को बल मिल रहा है। यही नहीं विधायक देवेंद्र यादव को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का भी काफी करीबी माना माना जाता है।