breaking news New

SECL में 38 लाख का फर्जीवाड़ा करने वाले महाशक्ति ट्रांसपोर्ट के मालिक मनीष मिश्रा पहुंचे जेल

SECL में 38 लाख का फर्जीवाड़ा करने वाले महाशक्ति ट्रांसपोर्ट के मालिक मनीष मिश्रा पहुंचे जेल

 कोरिया, 22 मार्च। विगत दिनांक 04/03/2021 को एन. एस. सिन्हा क्षेत्रीय वृत्त शाखा प्रबंधक चिरमिरी द्वारा थाना पोडी में शिकायत दर्ज कराया गया था कि मेमर्स महाशक्ति ट्रांसपोर्ट चिरमिरी के प्रोप्राईटर मनीष कुमार मिश्रा द्वारा स्कूली छात्रों के अवगमन के लिए बस को 03 वर्ष के लिये एसईसीएल कार्य आवेश पर किराया में लगाया था।

महाशक्ति ट्रांसपोर्ट के मालिक मनीष मिश्रा

उन बसों का बिल तथा 07 बसों का एसडी मनी का बिल फर्जी तैयार कर हस्ताक्षर कर नियम के विरुद्ध बिल पास कराया जा कर 3809471 लाख रूपये का गबन किया उसके पश्चात मनीष मिश्रा प्रोप्राईटर द्वारा पुनः 793910 लाख रूपये का फर्जी बिल तैयार कर महा प्रबंधक कार्यालय में भुगतान हेतु बिल लगाया था जिसमे संबंधित अधिकारियो को फर्जी बिल होने का अंदेशा होने से बिल में रोक लगा दिया गया तथा पिछला आहरित बिल की जांच मे मनीष मिश्रा द्वारा पूर्व में आहरित बिल 3809471 लाख रूपये का फर्जी पाये जाने से थाना पोडी मे अप0 कं0 36/2021 धारा 420, 468, 471, 406 ताहि का रिपोर्ट दर्ज किया गया |

पुलिस अधीक्षक चन्द्र मोहन सिंह, नगर पुलिस अधीक्षक पी. पी.सिंह को घटना से अवगत कराकर वरिष्ठ अधिकारियो के दिशा निर्देश पर विवेचना के दौरान आरोपी मनीष मिश्रा को अम्बिकापुर से लाकर गिरफ्तार किया गया आरोपी को प्रकरण के संबंध मे पूछताछ विवेचना उपरान्त न्यायिक रिमांड पर माननीय न्यायालय पेश किया जा रहा है। आरोपी को गिरफ्तार करने में मुख्य भूमिका उप0 निरी0 जनक राम कुरें, आरक्षक निर्भय सिंह, मनोज कुमार, आनंद लकडा, सुशील भगत, चंद्रसेन सिंह, विनोद सिंह, सायबर सेल प्रिंस राय, एनसीओ अजय दुबे का सराहनीय योगदान रहा।