breaking news New

7 नहीं बल्कि 4 फेरे लेकर रणबीर की दुल्हन बनी आलिया

7 नहीं बल्कि 4 फेरे लेकर रणबीर की दुल्हन बनी आलिया

बॉलीवुड का सबसे मशहूर कपल रणबीर कपूर और आलिया भट्ट अब पति-पत्नी बन चुके हैं। इस कपल ने बीते 14 अप्रैल को शादी की और दोनों सात जन्मों के बंधन में बंध गए। आप सभी को बता दें कि रणबीर-आलिया के फैंस को इस दिन का बड़ी बेसब्री से इंतज़ार था और 14 अप्रैल को आलिया-रणबीर ने सात जन्मों के लिए एक दूसरे का हाथ थाम लिया। हालाँकि आपको नहीं पता होगा कि रणबीर और आलिया ने सात जन्मों का साथ निभाने का वादा सात फेरे लेकर नहीं बल्कि सिर्फ चार फेरे लेकर किया है। जी हां, सुनकर आपको यकीन नहीं हो रहा होगा लेकिन आलिया-रणबीर ने शादी की एक परंपरा को बदलते हुए सात फेरे नहीं, बल्कि सिर्फ चार फेरे लिए।

जी दरअसल इस बारे में खुद आलिया के भाई राहुल भट्ट ने बताया है, इसी के साथ ही कपल के ऐसा करने के पीछे की वजह भी बताई है। 

राहुल भट्ट ने कहा, रणबीर-आलिया ने अपनी शादी में 7 नहीं 4 फेरे लिए हैं। उनकी शादी में एक विशेष पंडित थे। ये पंडित कई सालों से कपूर परिवार के साथ हैं। तो उन्होंने हर फेरे का महत्व समझाया। एक होता है धर्म के लिए, एक होता है संतान के लिए।।।तो ये सब वास्तव में बहुत आकर्षक था। मैं एक ऐसे घर से ताल्लुक रखता हूं जहां कई धर्मों के लोग हैं। रिकॉर्ड के लिए 7 फेरे नहीं, बल्कि 4 फेरे लिए गए और मैं चारों फेरों के दौरान वहीं था। अब बात करें शादी के बाद होने वाले रिसेप्शन की।

तो बीते कल नीतू कपूर बेटी रिद्धिमा और दामाद भरत साहनी के साथ मीडिया के सामने आईं और उन्होंने पैपराज़ी को थैंक्यू कहा और इसी दौरान जब पैपराज़ी ने उनसे रिसेप्शन को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने साफ कर दिया कि कोई रिसेप्शन नहीं होने जा रहा है। इसी के साथ न्होंने कहा कि सब कुछ हो गया है और अब आप आराम से घर जाकर सो जाइए।