breaking news New

अंग्रेजी माध्यम स्कूलों में पढ़ाई का स्तर उच्च गुणवत्ता का हो ताकि प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए विद्यार्थी स्वयं को तैयार कर सकें - कलेक्टर

अंग्रेजी माध्यम स्कूलों में पढ़ाई का स्तर उच्च गुणवत्ता का हो ताकि प्रतियोगी परीक्षाओं  के लिए विद्यार्थी स्वयं को तैयार कर सकें - कलेक्टर


  सक्ती जिले में 10 स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल का संचालन की अनुमति, प्रवेश प्रक्रिया शीघ्र शुरू करने के निर्देश

जांजगीर चांपा, 15 जून। मंगलवार को कलेक्टर  जितेन्द्र कुमार शुक्ला ने कहा कि विद्यार्थियों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा उपलब्ध करवाने के लिए राज्य सरकार द्वारा लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। गरीब से गरीब बच्चे को निजी स्कूलों की तरह सुविधाएं मिले, वे भी अंग्रेजी माध्यम से पढ़ाई कर भावी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए स्वयं को तैयार कर सकें, इसके लिए स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूलों की स्थापना की जा रही है। इसी उद्देश्य से जिले में दो जिला स्तरीय व आठ विकासखंड स्तरीय स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल की स्वीकृति दी गई है। जांजगीर व सक्ती के दो जिला स्तरीय अंग्रेजी माध्यम स्कूल प्रारंभ हो चुके है। शेष 8 विकासखंड स्तरीय स्कूलों में इस वर्ष के लिए प्रवेश प्रक्रिया प्रारंभ की जा रही है। 


कलेक्टर ने जिला शिक्षा अधिकारियों से कहा कि प्रवेश हेतु विद्यार्थियो से आवेदन प्राप्त हो चुके है। ऐसी कक्षा जहां उपलब्ध सीट से ज्यादा आवेदन प्राप्त हुए है, निर्धारित प्रक्रिया का पालन करत हुए वहां लाटरी सिस्टम से विद्यार्थियों का चयन किया जाय। ऐसी कक्षाएं जहां उपलब्ध सीट से कम आवेदन प्राप्त हुए है, वहां प्रवेश प्रक्रिया जारी रहेगी। कलेक्टर ने कहा कि विभागीय शिक्षकों की अंग्रेजी माध्यम स्कूल में प्रतिनियुक्ति की कार्यवाई भी शीघ्र पूरा करें जिससे समय पर अध्यापन कार्य समय पर प्रारंभ किया जा सके। उन्होने निर्माण विभाग के अधिकारियों से कहा कि मरम्मत व अधूरे निर्माण कार्य शीघ्र पूरा करवाएं और स्वीकृत कार्याे की निविदा प्रक्रिया भी प्रारंभ कर दें। 

कलेक्टर ने कहा कि राज्य शासन द्वारा प्रतिवर्ष विद्यार्थियों को निःशुल्क पाठ्य पुस्तकों का वितरण किया जाता है। सरकार के निर्देशानुसार निःशुल्क पाठ्य पुस्तकें सभी पात्र विद्यार्थियों को उनके घरों तक पहुंचाकर दी जायेगी जिससे उन्हें अपनी पढ़ाई जारी रखने में कठिनाई न हो। कलेक्टर ने पाठ्य पुस्तकों के वितरण के लिए कार्ययोजना तैयार करने हेतु जिला शिक्षा अधिकारियों को निर्देेशित किया। बैठक में लीना कोसम, जिला पंचायत सीईओ गजेंद्र सिंह ठाकुर, सक्ती व जांजगीर के जिला शिक्षा अधिकारी सहित निर्माण  विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।