breaking news New

नोवेल कोरोना संक्रमण से बचने सतर्कता जरूरी-कलेक्टर बंसल

नोवेल कोरोना संक्रमण से बचने सतर्कता जरूरी-कलेक्टर बंसल

संजय जैन

धमतरी, 2 अप्रैल। समूचे विश्व में कोरोना वायरस के कारण आपाधापी मची हुई है। इसे लेकर लोगों का ऐसा तर्क है कि इसका ईलाज स्वयं व्यक्ति ही कर सकता है क्योंकि इस महामारी में लोगो की सतर्कता ही सबसे बडा ईलाज है। इसे लेकर विश्व के साथ साथ भारत सरकार द्वारा भी कोरोना वायरस को लेकर सघन प्रचार प्रसार अभियान चलाया जा रहा है। प्रदेश के मुख्यमंत्री भी कोरोना वायरस को लेकर प्रदेशवासियो के द्वारा लॉकडाउन के समय सयंम बरतने तथा निर्धारित अवधि तक अपना काम निबटाकर अपने अपने घरो में रहने की सलाह दे रहे है। जिला कलेक्टर रजत बंसल द्वारा जो व्यवस्थाएं कोरोना वायरस को लेकर की जा रही है उससे जिले में अभी तक कोई भी ऐसा पॉजीटीव प्रकरण प्रकाश में नही आया है। स्वास्थ अमला लगातार जिले की समीक्षा कर रहा है।

कोरोना वायरस की शुरूवात चीन से निकल कर समुचे विश्व में हो चुकी है। इसकी रोकथाम को लेकर लगातार शोध किया जा रहा है ताकि इस बीमारी से लोगों को निजात दिलायी जा सके। कोरोना वायरस का ईलाज अभी तक नही ढुंढा जा सका है लेकिन समय समय पर जारी सरकार के दिशा निेर्देशो के तहत लोगों की सुरक्षा खुद उनकी हाथो में बतायी जा रही है। इसे लेकर ही समुचे देश में लॉकडाउन (तालाबंदी) की गई है। इस घोषणा का मुख्य मकसद लोगों के बीच दूरियां बनाया जाना है। कोरोना वायरस से बचने सरकार द्वारा लगातार 1 मीटर की दूरी बनाकर रखे जाने की अपील बारंबार की जा रही है साथ ही यह भी समझाईश दी जा रही है कि सर्दी खांसी, बुखार, छींक  आने पर समीपस्थ स्वास्थ केन्द्र में जाकर त्वरित उसका उपचार करायें। साबुन से लगातार हाथ धोते रहे बिना हाथ धोये, हाथ, कान नाक, मुंह में हाथ न लगायें। इस तरह लगातार अपील के साथ साथ जिला प्रशासन भी पुरी तरह मुस्तैद नजर आ रहा है। इसका पालन के लिए न सिर्फ कलेक्टर रजत बसंल लगातार स्वास्थ सुविधाओं की समीक्षा कर प्रतिदिन ऐसे संदिग्ध व्यक्ति की खोज खबर करने लगातार निेर्देशित कर रहे है वहीं पुलिस अधीक्षक बीपी राजभानु द्वारा भी पुलिस विभाग द्वारा अनावश्यक घुमने वाले व्यक्तियों पर कार्यवाही किये जाने का निर्देश दिया गया है जिसके चलते अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक   मनीषा ठाकुर रावटे द्वारा चौक चौराहो पर अब चौकी स्थापित कर दी गई है। 

जिला प्रशासन के मुखिया रजत बसंल ने नोवेल कोरोना वायरस कोविद-19 की वैश्विक आपदा के मद्देनजर सम्पूर्ण देश सहित धमतरी जिले में 25 मार्च से तालाबंदी कर दी है जिसका सर्वाधिक और सीधा प्रभाव निम्र मध्यम वर्गीय परिवारो पर पडने की संभावना को देखते हुए उनके द्वारा गरीब तबके के यथासंभव सहयोग के लिए नीति निर्धारण करते हुए जिले के स्वयं सेवी संस्थानो और लोगों से मदद की अपील की गई थी। अपील का यह असर रहा कि मिलने वाले सहयोग से वालेंटियर्स के जरिये उन्हें जरूरत के समान वितरीत किये गये। कलेकटर ने जिलेवासियो से अपील करते हुए कहा कि आने वाले समय में भी इसी तरह की मानव सेवा की यह परंपरा जारी रखी जावे। जिले में कोई भी गरीब व्यक्ति भुखा न रहे। इसी के साथ साथ उन्होने शहर मेें जो अनावश्यक रूप से लोगो को घुमते हुए देखा तो कलेक्टर श्री बंसल ने 24 मार्च को दंड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 लागू की जिसके तहत जिले के लोग सुबह 7 से दोपहर 12 बजे तक अपने जरूरत का समान खरीदकर अपने अपने घरो में रहे। कलेक्टर द्वारा शहर के किराना व्यापारियो को आहूत कर आवश्यक सामाग्रियो को उचित मूल्य पर बेचने की हिदायत दी। स्वयं अनेक ऐंसे प्रतिष्ठानो में जाकर दबिश दी और जहां निर्धारित मूल्य के उपर वस्तुएं बेची जा रही थी उन पर कार्यवाही के निर्देश संबंधित विभाग को दिये। इसी के साथ साथ उनके द्वारा संक्रमित मरीजो के लिए क्वारंईन तथा आईसोलेशन वार्डो की स्थिति की भी जानकारी लेकर उक्त व्यवस्था पर संतोष जाहिर किया। 

जिला दंडाधिकारी श्री बसंल के द्वारा जिले में धारा 144 लागू किये जाने के बाद से समझदार लोग अपने अपने घरो  में पूर्व में 7 बजे से 3 बजे तक अपने अपने कार्यो को निबटाकर अपने घरो में आराम करते थे किन्तु लगातार मिल रहे शिकायते के मद्देनजर उनके द्वारा इसमें उपरोक्त आंशिक संशोधन करते हुए सुबह 7 बजे से 12 बजे तक ही जरूरी समान विक्रय की अनुमति दी गई है। इसका मुख्य उद्देश्य लगातार ऐसे लोग जो अनावश्यक रूप से शहर में ग्रुप समूह बनाकर निकलते थे उन पर बंदिश लगाना है। कलेक्टर के उक्त आदेश पर पुलिस विभाग द्वारा धारा 144 को सख्ती से लागू करने हेतु चौक चौराहों में चौकी स्थापित कर दी गई है और लगातार पुलिस विभाग के अधिकारी कर्मचारी द्वारा निचली बस्तियों में जाकर ऐसे लोगों को उठक बैठक कराया जा रहा है और भविष्य में दोबारा मिलने पर कार्यवाही किये जाने की चेतावनी दी जा रही है जिसकी जिलेवासियो ने प्रशंसा की है। गौरतलब रहे कि नागरिकों से बार-बार जिला एवं पुलिस प्रशसन द्वारा अनावश्यक रूप से भीड भाड न लगाये जाने की अपील की गई है। उपरोक्त व्यवस्था के तहत मेडिकल, पेट्रोल पंप अस्पताल, मेडिकल को छूट दी गई है। शहर के अनेक संस्थाओं द्वारा भी लगातार कोरोना वायरस से बचने अपने अपने घरो में निवास करने की अपील की जा रही है।