breaking news New

Breaking छत्तीसगढ़ के किशोर राजपूत को नेपाल में मिलेगा अंतराष्ट्रीय पर्यावरण योद्धा सम्मान 2021

Breaking छत्तीसगढ़ के किशोर राजपूत को नेपाल में मिलेगा अंतराष्ट्रीय पर्यावरण योद्धा सम्मान 2021



नगर पंचायत नवागढ़ के युवा प्रगतिशील किसान और सामाजिक कार्यकर्ता किशोर राजपूत को भगवान गौतम बुद्ध के जन्मस्थली लुम्बनी नेपाल मे सम्मानित किया जाएगा। पूरे विश्व से पर्यावरण के संरक्षण संवर्धन के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले समाजिक कार्यकर्ता को पीपल नीम तुलसी नेपाल की संस्था ग्रीन यूथ ऑफ लुम्बनी नेपाल और कमला जलाधार संरक्षण अभियान जनकपुर नेपाल एवम दीदी जी फाउंडेशन के द्वारा नेपाल में अंतरराष्ट्रीय पर्यावरण योद्धा सम्मान 2021 से सम्मानित किया जाएगा।

यह सम्मान भारत के विभिन्न राज्यों और नेपाल,भूटान के द्वारा चयनित सामाजिक कार्यकर्ता को दिया जा रहा है। जिसमे छत्तीसगढ़ राज्य के बेमेतरा जिला के नवागढ़ निवासी किशोर राजपूत भी शामिल है।

दो दिवसीय पर्यावरण योद्धा सम्मान सह विचार मंथन शिविर के उद्घाटन समारोह में मुख्य अतिथि श्रीमती सुषमा यादव राज्यमंत्री आर्थिक मामला तथा सहकारी मंत्रालय, लुम्बनी प्रदेश एवं अतिथि के रूप में दान बहादुर चौधरी पूर्व मंत्री लुम्बनी प्रदेश नेपाल, प्रो. सौरभ पांडेय संस्थापक धराधाम इंटरनेशनल, गोरखपुर, डॉक्टर विनय श्रीवास्तव वर्ल्ड रिकॉर्ड होल्डर पर्यावरण संरक्षण गोरखपुर,सुरेश शर्मा जनरल सेक्रेटरी जनकपुर धाम, नेपाल विशेष अतिथि मनमोहन चौधरी (मेयर लुम्बनी सांस्कृतिक नगर पालिका), अवधेश कुमार त्रिपाठी (उपाध्यक्ष लुम्बनी विकास कोष) पशुपतिनाथ नाथ कोईराला सचिव पर्यावरण मंत्रालय लुम्बनी प्रदेश नेपाल, मो अकरमुल चौधरी (चीफ गेस्ट बांग्लादेश) जेपी वर्मा, निर्देशक हर्बल ए पी एस बिहार पटना भारत, अध्यक्षता डॉक्टर धर्मेन्द्र कुमार संस्थापक पीपल नीम तुलसी अभियान, मंटू कुमार कार्यक्रम संयोजक, उमेश यादव सह संयोजक हैं। कार्यक्रम दिनाँक 27और 28 नवम्बर शनिवार को दोपहर 12 बजे लुम्बनी सांस्कृतिक नगर पालिका हॉल खूनगाई,नेपाल में होगा।



किशोर राजपूत नवागढ़ के पहले ऐसे युवा किसान और सामाजिक कार्यकर्ता हैं जिन्हें अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर दूसरा बार सम्मानित किया जाएगा। किशोर राजपूत लम्बे अरसे से आयुर्वेद, कृषि, सामाजिक काम और जैव विविधता संरक्षण संर्वधन के क्षेत्र में सराहनीय कार्य कर रहे हैं।

अब तक किशोर कई औषधीय गुणों से युक्त पेड़ पौधें लगा चुके हैं और वर्ष 2010 से प्रयास सामाज सेवी संगठन,3013 में सुरभि सेवा संस्थान,संस्कृति शिक्षण संस्थान बनाकर समाज सेवा कर रहे हैं,कई गौ वंश की चारा पानी की व्यवस्था भी निःशुल्क कर रहे हैं,इनके द्वारा लिखे गए लेख देश के सबसे प्रतिष्ठित आयुर्वेद मासिक पत्रिका सुधनिधि में जनवरी 2010 से अब तक अलग अलग राज्यों में 10 से ज्यादा प्रकाशित हो चुके हैं,विभिन्न विषयों पर साहित्य भी प्रकाशित हुआ है। इनको अब तक 50 से अधिक संस्थाए देश विदेश से सम्मानित कर चुके हैं। इनके कार्य को देखकर 2010 से ही नेचरोपैथी नोबेल एवार्ड से सम्मानित किया जा चुका है।

किशोर राजपूत को अब तक कई 50 से ज्यादा राष्ट्रीय अंतराष्ट्रीय स्तर पर सम्मानित हो चुके हैं और आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए 3 बार गोल्ड मेडल मिला है डॉक्टर ईश्वर सहाय शर्मा आयुष आश्रम लखनऊ के द्वारा 2015 आचार्य की मानद उपाधि से सम्मानित किया जा चुका है। कोविड 19 के दूसरे लहर में भी लोगों को निःशुल्क औषधीय गुणों से युक्त गिलोय का वितरण कर बेहतरीन कार्य किया था। निःसन्तान दम्पतियों को संतान प्राप्ति के लिए आयुर्वेद चिकित्सा में भी सहायता करते हैं।

देश विदेश में कई लोग इनको अपना आइडियल मानते हैं।राष्ट्रीय स्तर पर इनको कई सम्मान मिल चुके हैं फिर भी सादगी से परिपूर्ण अपने काम में मग्न रहने वाले युवा हैं।