breaking news New

जिले के पंजीकृत किसानों से 80.55 लाख क्विंटल धान की खरीदी का लक्ष्य

जिले के पंजीकृत किसानों से 80.55 लाख क्विंटल धान की खरीदी का लक्ष्य


अब तक 91,592 किसानों ने बेचा धान 

सक्ती  जांजगीर-चांपा, 28 दिसंबर। भाठापारा(जांजगीर) के किसान अवध कुमार सूर्यवंशी ने कहा कि राज्य सरकार ने धान की कीमत 2500 रूपये प्रति क्विंटल दिलाकर किसानों का मान और स्वाभिमान बढ़ाया है। राजीव गांधी किसान न्याय योजना के माध्यम से वर्ष 2019-20 में समर्थन मूल्य पर बेचे गए धान के अंतर की राशि का 4 किश्तों में भुगतान किया जा रहा है। अब तक 3 किश्त प्राप्त होने पर किसानों के चेहरे पर खुशी है। किसानों को धान का उचित मूल्य मिलने से उनका आत्मविश्वास बढ़ा है। युवा किसान भी खेती-किसानी में रूचि लेने लगे हैं। श्री सूर्यवंशी ने कहा कि किसानों की सहूलियत का ध्यान रखते हुए इस वर्ष भी समर्थन मूल्य पर धान खरीदी के लिए समुचित प्रबंध किए गए है। उन्होंने बताया कि गुरूवार 24 दिसंबर को 72 कट्टी धान बेचने के लिए टोकन कटवाया था। आज निर्धारित तिथि 28 दिसंबर को पेण्ड्री धान उपार्जन केन्द्र में  धान लाने पर सहजता से तौलाई भी हो गई। श्री अवध कुमार ने जिला प्रशासन द्वारा की गई धान खरीदी की पुख्ता व्यवस्था की प्रशंसा की । 

 उल्लेखनीय है कि जिला प्रशासन द्वारा खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 के लिए एक लाख 87 हजार 77 पंजीकृत किसानों से धान खरीदी के लिए 230 उपार्जन केन्द्रों की व्यवस्था की गई है। इस वर्ष किसानों से 80.55 लाख क्विंटल धान की खरीदी का लक्ष्य रखा गया है। राज्य सरकार के निर्देशानुसार सभी उपार्जन केन्द्रों में आवश्यक व्यवस्था की गई है। जिले में अब तक 91हजार 901 से अधिक किसान अपना धान बेच चुके हैं।