breaking news New

कान्यकुब्ज सामाजिक चेतना मंच द्वारा सम्मान समारोह का आयोजन किया गया

कान्यकुब्ज सामाजिक चेतना मंच द्वारा  सम्मान समारोह का आयोजन किया गया

भिलाई, 29 दिसंबर। कान्यकुब्ज सामाजिक चेतना मंच, सेक्टर 1, भिलाई में 27 दिसंबर  रविवार को  सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। समाज के सदस्यों का कौस्तुभ सम्मान एवं षष्ठी पूर्ती सम्मान का आयोजन सांकेतिक रूप से किया गया।  इस अवसर पर समारोह के मुख्य अतिथि के रूप में  विवेक शुक्ला, नगर पुलिस अधीक्षक, दुर्ग और विशेष अतिथि  अनिल बाजपेयी, ऐडीशनल  कलेक्टर, बालोद उपस्थित थे।

इस अवसर पर समाज के 60 वर्ष पूर्ण करने वाले 18 सदस्यों का षष्ठी पूर्ति सम्मान किया गया और 75 वर्ष की आयु पूर्ण करने वाले 13 वरिष्ठ सदस्यों का कौस्तुक सम्मान/हीरक जयंती सम्मान से सम्मानित किया गया। इसमें रायपुर निवासी पूर्व डिप्टी कलेक्टर  आर एस अवस्थी सहित अन्य वरिष्ठ सदस्य परिजनों के साथ उपस्थित थे। 

इस अवसर पर समाज के मार्गदर्शक और संयंत्र के पूर्व कार्यपालक निदेशक  (वर्कस)  बी एम के बाजपेयी समाज के पूर्व अध्यक्ष एवं संयंत्र के पूर्व महाप्रबंधक  यू के दीक्षित की उपस्थिति में समाज की वार्षिक पत्रिका ‘‘चेतना’’ और नववर्ष के कैलेन्डर का विमोचन किया गया। 

इस अवसर पर मुख्य अतिथि  विवेक शुक्ला ने अपने संबोधन में युवाओं को अपने भविष्य के प्रति सजग रहने पर जोर देते हुए कहा कि लगन होना चाहिये और निरंतर प्रयास करते रहना चाहिये। एक न एक दिन लक्ष्य की प्राप्ति अवश्य होगी। उन्होने कहा कि युवा वर्ग हो रहे परिवर्तन को आत्मसात करें और अपने में उसके अनुरूप बदलाव लाये। 

एडिशनल कलेक्टर, बालोद एवं विशेष अतिथि  अनिल बाजपेयी ने अपने संबोधन में कहा कि समाज में सदस्यों के बीच सक्रियता बनी रहनी चाहिये। मध्यम और निम्न वर्ग के सदस्यों को साथ लेकर निरंतर कुछ न कुछ कार्यक्रमों के माध्यम से गतिविधियां होती रहनी चाहिये। इससे सकारात्मकता बनी रहेगी और सभी को एक नवीन उर्जा मिलेगी।

कार्यक्रम के प्रारंभ में समाज के अध्यक्ष  आशीष मिश्रा ने अतिथियों का स्वागत करते हुए करोना काल में समाज की सक्रियता और कार्यकारिणी के प्रयासों पर प्रकाश डाला। महासचिव  सतीश शुक्ला ने  भी आयोजन को सम्बोधित किया। समारोह के अंत में समाज के उपाध्यक्ष  संतोष दीक्षित ने धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन वंदना पांडेय और  रविन्द्र मिश्रा ने किया। आगंतुकों का पंजीयन और कोरोना के लिये शासकीय दिशा-निर्देशों के पालन का प्रभार मंजू शुक्ला,  आलोक शुक्ला, प्रिया तिवारी और ज्योति तिवारी ने संभाला।