breaking news New

मंत्रिमंडल विस्तार पर कांग्रेस का तंज, यह मंत्रिपरिषद का नहीं, सत्ता की भूख का विस्तार’

मंत्रिमंडल विस्तार पर कांग्रेस का तंज,  यह मंत्रिपरिषद का नहीं, सत्ता की भूख का विस्तार’

मोदी सरकार का पहला कैबिनेट विस्तार (Modi Cabinet Reshuffle) आज होने जा रहा है. माना जा रहा है कि नई कैबिनेट (New Cabinet) में परफॉर्मेंस के आधार पर मंत्रियों को हटाया और प्रमोट किया जा रहा है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, गुरुवार 8 जुलाई को मंत्रिमंडल विस्तार हो सकता है। वहीं मंत्रिमंडल विस्तार की संभावना को लेकर चल रही चर्चा के बीच कांग्रेस ने दावा किया कि नरेंद्र मोदी सरकार में पदोन्नति पाने का मापदंड यह होता है कि किस मंत्री ने राहुल गांधी के खिलाफ कितने ट्वीट किए हैं। 

कांग्रेस (Congress) ने केंद्रीय मंत्रिपरिषद के विस्तार (Cabinet Expansion) से कुछ घंटे पहले बुधवार को दावा किया कि यह केंद्रीय कैबिनेट का नहीं, बल्कि ‘सत्ता की भूख’ का विस्तार है. पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह भी कहा कि अगर कामकाज और शासन को आधार बनाया जाए तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके कई मंत्रियों को पद से हटा दिया जाना चाहिए.

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘यह मंत्रिपरिषद का विस्तार नहीं, सत्ता की भूख का विस्तार है. अगर मंत्रिपरिषद का विस्तार हो तो वह कामकाज और शासन के आधार पर हो.’’सुरजेवाला ने दावा किया, ‘‘अगर कामकाज के आधार पर फेरबदल हो तो सबसे पहले तो स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री हर्षवर्धन को हटा दिया जाना चाहिए. इसके साथ ही पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान को हटाना चाहिए जिन्होंने पेट्रोल-डीजल पर उत्पाद शुल्क की लूट के बोझ तले देश की जनता को दबा दिया.’’

पार्टी प्रवक्ता पवन खेड़ा ने यह सवाल भी किया कि उन राज्यपालों को क्यों नहीं हटाया गया, जिनके विरूद्ध संविधान से खिलवाड़ के आरोप लगे हैं? केंद्रीय मंत्रिपरिषद में संभावित फेरबदल के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘यह प्रधानमंत्री का विशेषाधिकार है। किंतु मोदी सरकार में किसी तरह का फेरबदल होता है तो ऐसे किसी व्यक्ति को नहीं बदला जाता जिसके विरूद्ध शिकायत हो। ऐेसे व्यक्ति को ईनाम दिया जाता है।’’मोदी सरकार का पहला कैबिनेट विस्तार (Modi Cabinet Reshuffle) आज होने जा रहा है. माना जा रहा है कि नई कैबिनेट (New Cabinet) में परफॉर्मेंस के आधार पर मंत्रियों को हटाया और प्रमोट किया जा रहा है.