breaking news New

नक्सल पीड़ित परिवार का पुनः सर्वे,जॉच,किये आदेशित

नक्सल पीड़ित परिवार का पुनः सर्वे,जॉच,किये आदेशित


 संभाग स्तरीय, जिला एवं पुलिस प्रशासन की संयुक्त बैठक हुई

भानुप्रतापपुर। 

दिनांक 11 अगस्त को जिला एवं पुलिस प्रशासन के साथ कांकेर जिला के समस्त नक्सल पीड़ित परिवारों के साथ सयुंक्त बैठक हुई । 

उक्त बैठक में प्रशासन द्वारा नक्सल पीड़ितों के प्रतिनिधियों को आत्मसमर्पित नक्सलियों / एवं नक्सल पीडित परिवारों को केन्द्र / राज्य शासन की क्षतिपूर्ति मुआवजा , सहायता . सुरक्षा एवं पुनर्वास व्यवस्थापन के तहत दिये जाने वाले / अनुदान / सहायता की प्रगति की अनुभागवार अद्यतन जानकारी दी गई । 


 उक्त संदर्भ में बैठक में उपस्थित नक्सल पीड़ितों परिवारों के सदस्यों द्वारा अवगत कराया गया कि उक्त सर्वेक्षण सूची में बहुत कुछ नाम फर्जी हैं तथा एक ही नक्सल पीड़ित परिवार के 3-4 सदस्यों द्वारा शासन की सुविधाओं को गलत तरीके से फायदा उठा गया हैं। इसी प्रकार कई नक्सल पीड़ित परिवार जिन्हें पूर्व में शासन के सम्पूर्ण योजना का लाभ मिल चुका है , उन परिवारों का नाम भी सूची में आ गया है अथवा फर्जी तरीके से शामिल करा लिया गया है । उपरोक्त विसंगतियों को दृष्टिगत रखते हुये निर्णय लिया गया। भानुप्रतापपुर अनुविभाग अंतर्गत में अनुविभाग स्तरीय राजस्व विभाग, पुलिस विभाग एवं नक्सल पीड़ित परिवारों के दो नामांकित सदस्यों की संयुक्त जॉच दल का गठन किया जाता हैं। जॉच दल उन पीड़ित परिवारों को भी चिन्हांकित करेंगे , जो या तो दूसरे जिले से आये है , या दूसरे जिले / प्रान्त में चले गये हैं । ताकि स्पष्ट होने से सूची में उन्हें जोड़ा या विलोपित किया जा सके । 

जॉच दल यह भी स्पष्ट रूप से चिन्हांकित करेंगे कि पीड़ित परिवार वर्तमान में मूल निवास स्थान को वापस हुए हैं या हाल मुकाम पर निवासरत हैं । कहीं दोनों जगह पर शासन की योजनाओं का लाभ तो नहीं ले रहा है । अतः उपरोक्त गठित संयुक्त जॉच दल को आदेशित किया जाता है , कि नक्सल पीड़ित परिवार के नामांकित सदस्यों की उपस्थिति में परिवारवार पुनः सर्वे / जॉच करते हुए 7 दिनों के भीतर निर्धारित प्रारूप के अनुसार संशोषित जाँच प्रतिवेन अधोहस्ताक्षरी को प्रस्तुत करेंगे ।