जिला कोविड-19 कोर कमेटी की बैठक आयोजित , होम आइसोलेशन के निर्देशो का कड़ाई से पालन हो - कलेक्टर

जिला कोविड-19 कोर कमेटी की बैठक आयोजित , होम आइसोलेशन के निर्देशो का कड़ाई से पालन हो  - कलेक्टर

सक्ती  जांजगीर-चांपा 28 सितंबर।  कलेक्टर  यशवंत कुमार ने आज जिला स्तरीय कोविड-19 कोर कमेटी की दैनिक बैठक में कहा कि जिले में लक्षण रहित कोरोना संक्रमित जिन मरीजों को होम आइसोलेशन की अनुमति दी जा रही है उनसे होम आइसोलेशन के निर्देशों का कड़ाई से पालन करवाया जाए।

कलेक्टर ने बैठक में फोन के माध्यम से प्रत्येक मरीज से चेक लिस्ट के अनुसार डाटा संग्रहित करवाने के निर्देश सीएमएचओ को दिए।  उन्होंने कहा कि कोविड जांच सेंटर में पाजीटीव आए लक्षण रहित मरीजों को तत्काल दवाई कीट उपलब्ध कराते हुए होम आइसोलेशन के निर्देशो के साथ परामर्श भी दिया जाए। परामर्श की जिम्मेदारी जांच टीम के चिकित्सा अधिकारी की होगी। होम आइसोलेशन के मरीजों के घर के सामने स्टीकर अनिवार्य रूप से लगे, यह भी सुनिश्चित करें।

कोविड केयर सेंटर मे 10 आक्सीजन बेड की सुविधा बढ़ायी गयी  -

    कलेक्टर ने कहा कि मरीजों के उपचार के लिए पर्याप्त संसाधन उपलब्ध कराई जा रही है। दिव्यांग स्कूल भवन और आकांक्षा भवन मे बनाए गए कोविड केयर सेंटर मे कुल 10 आक्सीजन बेड की सुविधा बढ़ायी गयी  है। सभी सेंटर्स मे सुरक्षा की दृष्टि से सीसी टीवी कैमरे भी लगाए जा रहे हैं । जिससे जिससे मरीजों की कंट्रोल रूम से निगरानी की जा सके। इसके अलावा आक्सीजन कन्सन्टेटर, एम्बुलेंस भी शीघ्र उपलब्ध हो जाएगा।

सुरक्षा उपकरणो  की कमी ना हो-

   कलेक्टर ने सीएमएचओ से कहा कि चिकित्सक, स्वच्छता कामगार, मेडिकल स्टाफ आदि के लिए सुरक्षा उपकरणों जैसे मास्क, ग्लब्स, सेनेटाइजर आदि की कमी नही होनी चाहिए। वे स्वयं की सुरक्षा के लिए सुनिश्चित हों। निर्भय होकर सावधानी से काम कर सके। कम होने से पहले मांग पत्र भेजकर राज्य कार्यालय से तत्काल प्राप्त कर लें।

शिकायत  की जांच मे विलंब होने पर  नराजगी व्यक्त की-

       कलेक्टर ने होम आइसोलेशन के लिए पैसे मांगने की शिकायत  की जांच मे विलंब होने पर गहरी नराजगी व्यक्त की। उन्होने तत्काल विभागीय जांच पूरा कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश सीएमएचओ को दिए। श्री यशवंत कुमार ने कहा कि कोविड सेंटर मे सेवा दे रहे अधिकारियों व कर्मचारियो को लगातार प्रोत्साहित करते रहे। वे मानसिक रूप स्वस्थ रहें, इसके लिए मनोवैज्ञानिक परामर्श की  सुविधा उपलब्ध कराई जाय। उनके भोजन और सेंटर में  उपलब्ध अन्य सुविधाओ की भी जानकारी लेते रहें।

    होम आइसोलेशन के मरीजों को रक्षा एप डाउनलोड करवाया जा रहा-

 एसपी  पारूल माथुर ने कोविड केयर सेंटर की सुरक्षा व्यवस्था की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा उपलब्ध करवायी गयी सूची के अनुसार होम आइसोलेशन के मरीजों के मोबाईल पर फोन पर रक्षा एप डाउनलोड करवाया जा रहा है।

      बैठक मे सीएमएचओ डाॅ. बंजारे ने बताया कि जिले में वर्तमान में कुल 561 लक्षण रहित मरीज होम आइसोलेशन पर हैं। उन्हे दवाई के साथ होम आइसोलेशन के निर्देशों से अवगत कराया गया है। कोरोना जांच टीम द्वारा आज 95 संक्रमित मरीजों की पहचान की गयी है। जिसमें से 79 मरीजों को होम आईसोलशन की अनुमति दी गयी है।

     बैठक में  जिला पंचायत सीईओ  तीर्थराज अग्रवाल  सहित कमेटी के सदस्य उपस्थित थे।