breaking news New

फेडरेशन ने मौन रैली स्थगित कर सिर्फ धरना का किया आयोजन, हजारों सहायक शिक्षक हुए उपस्थित

फेडरेशन ने मौन रैली स्थगित कर सिर्फ धरना का किया आयोजन, हजारों सहायक शिक्षक हुए उपस्थित

 फेडरेशन ने वेतन विसंगति दूर करने व क्रमोन्नति की मांग को पूरा कराने को लेकर राजधानी रायपुर में किया आंदोलन

रायपुर।  छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन ने राजधानी-रायपुर में एक दिवसीय धरना मौन रैली के आयोजन से पूर्व शासन ने  शिक्षा सचिव से वार्ता हेतु संचालक लोक शिक्षण संचालनालय ने पत्र जारी किया। जिसके चलते सहायक शिक्षक फेडरेशन ने मौन रैली स्थगित कर सिर्फ धरना का आयोजन किया गया । आज फेडरेशन के आहवान पर बड़ी संख्या में सहायक शिक्षक बूढ़ा तालाब स्थित धरना स्थल पर हजारों सहायक शिक्षक उपस्थित हुए। 

जानकारी के मुताबिक  सहायक शिक्षक फेडरेशन के इस आंदोलन का 26 संघो ने समर्थन किया । राजधानी के बूढ़ा तालाब में हुए धरना सभा मे राजनांदगांव जिले से बड़ी संख्या में सहायक शिक्षक साथी पहुचे थे। प्रदेश अध्यक्ष-मनीष मिश्रा व जिला अध्यक्ष शंकर साहू के मार्गदर्शन एवं प्रांतीय एवं जिला पदाधिकारियों के दिशा - निर्देश में जिला राजनांदगांव के सभी 09 ब्लॉक से ब्लॉक अध्यक्ष द्वय रोशन साहू, कौशल श्रीवास्तव, नंदकिशोर सिंमकर, हीरालाल मौर्य, ओमप्रकाश साहू,पारख प्रकाश साहू, कीरत कुमार गणवीर, देव कुमार यादव, सुनील शर्मा,यशवंत देशमुख के नेतृत्व में बड़ी संख्या में सहायक शिक्षक राजधानी पहुचे थे।

आज के धरना को सम्बोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष मनीष मिश्रा ने मौजूद सहायक शिक्षको का आभार जताते हुए कहा कि हमारे इस मौन रैली से पहले ही शासन ने फेडरेशन से वार्ता का दौरा शुरू कर दिया था जिसके चलते फेडरेशन ने मौन रैली को स्थगित कर एक दिवसीय धरना का आयोजन रखा है । जिला अध्यक्ष शंकर साहू ने जारी प्रेस विज्ञप्ति में बताया है कि लोक शिक्षण संचालनालय से वार्ता हेतु पत्र जारी हुआ है और प्रांतीय टीम से वार्ता भी हुआ है।  इसके लिए प्रदेश अध्यक्ष मनीष मिश्रा ने पूरी तैयारी कर लिया था । वार्ता में पहली प्राथमिकता है कि सहायक शिक्षक के वेतन में जो विसंगति अर्थात शिक्षक के वेतन की तुलना में सहायक शिक्षक के वेतन में जो 15 से 17 हजार का अंतर पैदा हुई है उसका हर हाल में हल निकल पाए जिसके लिए हमने सरकार से बार बार गुहार लगाई थी। पर बात नही बन पाई पर जो पत्र हमे वार्ता के लिए मिला है इससे हमें विश्वास जगा है कि अब सहायक शिक्षको के साथ न्याय होगा । कार्यक्रम में राजनांदगांव जिला अध्यक्ष- शंकर साहू ने  सम्बोधित  करते हुए कहा कि राजधानी में धरना सभा मे उपस्थित हुए सहायक शिक्षको का जन सैलाब बता रहा है कि सहायक शिक्षको की समस्या कितनी बड़ी है। हर सहायक शिक्षक आज सरकार से अपने 23 वर्ष की सेवा का सम्मान मांग रहा है और जल्द ही हमे आशा है सहायक शिक्षको की विसंगति का निदान होगा । 

धरने को प्रदेश अध्यक्ष-मनीष मिश्रा, प्रवक्ता विकास मानिकपुरी,प्रदेश महामंत्री-राजकुमार यादव,प्रदेश महासचिव-प्रेमलता शर्मा,प्रदेश सहसचिव-राजू यादव,जिला अध्यक्ष-शंकर साहू,जिला सचिव-रामलाल साहू,जिला संयोजक-माला गौतम,मंजू देवांगन, दोदेश्वर चंदेल,डोंगरगढ़ ब्लॉक संयोजक-ओमप्रकाश साहू ने भी सम्बोधित किया ।