breaking news New

राष्ट्रीय पोषण माह सितम्बर में होंगे जनजागरूकता के विविध कार्यक्रम मंत्री भेंड़िया ने की जनसहयोग की अपील

राष्ट्रीय पोषण माह सितम्बर में होंगे जनजागरूकता के विविध कार्यक्रम मंत्री  भेंड़िया ने की जनसहयोग की अपील


 रायपुर। महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेंड़िया ने एक सितम्बर से शुरू हो रहे राष्ट्रीय पोषण माह की सफलता के लिए जनप्रतिनिधियों सहित आम नागरिकों से सहयोग की अपील की है। उन्होंने कहा है कि जनजागरूकता से ही कुपोषण मुक्ति के प्रयास सफल हो सकेंगे, इसके लिए अधिक से अधिक लोगों की सक्रिय भागीदारी और सहयोग जरूरी है। मंत्री भेंड़िया ने कहा है कि कोरोना काल ने हमें स्वस्थ शरीर और प्रतिरोधक क्षमता का महत्व सिखा दिया। स्वस्थ शरीर के लिए पौष्टिक आहार का बहुत अधिक महत्व है, यह शारीरिक विकास के साथ कई प्रकार की बीमारियों के प्रति प्रतिरोधक क्षमता का विकास करता है। उन्होंने कहा कि लोग स्वस्थ जीवन के लिए खुद जागरूक हों और दूसरों को भी जागरूक करें। उन्होेंने कहा है कि पोषण माह के दौरान आयोजित कार्यक्रमों में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सभी दिशा-निर्देशों और नियमों का पालन सुनिश्चित किया जाए।

उल्लेखनीय है कि कुपोषण में कमी लाने के उद्देश्य से संचालित पोषण अभियान के तहत पूरे देश में सितम्बर माह को राष्ट्रीय पोषण माह के रूप में मनाया जाएगा। छत्तीसगढ़ में इसकी पूरी तैयारी कर ली गई है। महिला एवं बाल विकास विभाग की अगुवाई में सभी विभाग ‘कुपोषण छोड़ पोषण की ओर, थामें क्षेत्रीय भोजन की डोर‘ नारे के साथ राष्ट्रीय पोषण माह के दौरान विभिन्न आयोजन कर लोगों में पोषण और स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता और व्यवहार परिवर्तन का प्रयास करेंगे। पोषण पखवाड़े में जिला से लेकर ग्राम पंचायत स्तर पर हर हफ्ते अलग-अलग थीम आधारित कार्यक्रम आयोजित होंगे। पहले हफ्ते पोषण वाटिका का विकास, दूसरे सप्ताह में पोषण हेतु योग एवं आयुष, तीसरे सप्ताह हाई बर्डन जिलों के आंगनबाड़ियों में हितग्राहियों को पोषण किट और सामग्री का वितरण और चौथे सप्ताह गंभीर कुपोषित बच्चों के चिन्हांकन एवं उन्हें पौष्टिक आहार वितरण के लिए अभियान का संचालन किया जाएगा।