breaking news New

चेंबर चुनाव : राजधानी में कम हुआ मतदान, 9036 में से 6200 वोट गिरे, कांटे की टक्कर में कल मतगणना में तय होगा अध्यक्ष, योगेश अग्रवाल और अमर पारवानी की साख दांव पर

चेंबर चुनाव : राजधानी में कम हुआ मतदान, 9036 में से 6200 वोट गिरे, कांटे की टक्कर में कल मतगणना में तय होगा अध्यक्ष, योगेश अग्रवाल और अमर पारवानी की साख दांव पर

जनधारा समाचार
रायपुर. प्रदेश में व्यापारियों की सबसे बड़ी संस्था छत्तीसगढ़ चैंबर ऑफ कॉमर्स में अध्यक्ष पद सहित कई पदों पर चुनाव आज संपन्न हुआ. देवेन्द्र नगर स्थित गुजराती स्कूल में आज राजधानी रायपुर के लगभग 9036 व्यापारियों का नाम मतदाता सूची में था लेकिन 6200 लोग ही वोट डाल सके यानि 68.6 प्रतिशत कुल मतदान हुआ. चुनाव में व्यापारी एकता पैनल से योगेश अग्रवाल और जय व्यापार पैनल से अमर पारवानी अध्यक्ष पद के उम्मीदवार हैं.

पूरे प्रदेश में मतदान होने के बाद आज बारी राजधानी की थी जहां सबसे ज्यादा मतदाता बताए जा रहे हैं. आज सुबह जब मतदान शुरू हुआ तो व्यापारियों में जोश और जुनून दिखाई दिया. मतदान का समय प्रात: 10 बजे से सायं 5 बजे तक रखा गया था. भाजपा और कांग्रेस से जुड़े व्यापारीनुमा नेता भी वोट डालने पहुंचे. कल मतगणना होगी और शाम तक तय हो जाएगा कि चेम्बर की कमान कौन सा पैनल संभालेगा. दोनों ही पैनलों ने अपनी—अपनी जीत का दावा किया है. हालांकि मुख्य निर्णायक वोट सिंधी, अग्रवाल, जैन वर्ग का माना जा रहा है जिसने इन्हें साध लिया, उसकी जीत तय मानी जा रही है.

चुनाव केंद्र के बाहर दोनों पैनल ने केसरिया और पीले रंग के स्वागत गेट बनाए थे. 39 बूथ बनाए गए थे जहां उपस्थिति दर्ज कराने के बाद लोग गुजराती स्कूल में मतदान कर रहे थे. व्यापारी एकता पैनल से कोषाध्यक्ष पद के प्रत्याशी निकेश बरड़िया काफी सक्रिय दिखे. मतदान कर रहे व्यापारियों का कहना था कि इस बार मुकाबला कड़ा है क्योंकि व्यापारी एकता पैनल के पूर्व विधायक श्रीचंद सुंदरानी प्रचार कर रहे हैं और योगेश अग्रवाल पूर्व मंत्री विधायक और भाजपा के कद्दावर नेता बृजमोहन अग्रवाल के छोटे भाई हैं इसलिए व्यापारी एकता पैनल मजबूत नजर आ रहा है। वहीं कुछ व्यापारियों ने जय व्यापार पैनल के उम्मीदवार अमर पारवानी के पक्ष में अपनी सहानुभूति दिखाई. आश्चर्य कि सबसे कम मतदान रायपुर में हुआ.



मतदान करके लौट रहे व्यापारियों के बीच जीत—हार के कयास लगाए जाते रहे. इसी बीच दोपहर को खबर उड़ी कि योगेश अग्रवाल का किसी व्यापारी से विवाद हो गया है हालांकि बाद में वह अफवाह निकली. कुछ व्यापारी कह रहे थे कि अध्यक्ष पद के प्रत्याशी अमर पारवानी हमारे सुख—दुख में हमेशा खड़े रहे हैं, जब वे चेम्बर के अध्यक्ष थे तब उन्होंने काफी काम किया और चेम्बर से अध्यक्ष पद से हटने के बाद भी व्यापारियों से सतत सम्पर्क बनाए हुए थे. अमर पारवानी अनुभवी होने के साथ ही काफी सुलझे हुए व्यक्ति हैं तथा सरल स्वभाव के हैं।

वहीं अध्यक्ष पद के प्रत्याशी योगेश अग्रवाल के लिए अनाज व सराफा व्यापारी योगेश के पक्ष नज़र आए. उनका कहना था कि योगेश अग्रवाल सदैव हमारा सहयोग करते हैं, उन्होंने राइस मिल एसोसिएशन के अध्यक्ष रहते हुए बहुत काम किया है, यदि योगेश अग्रवाल जीत हासिल करते हैं तो व्यापारी वर्ग को मजबूती मिलेगी.

व्यापारी बदलाव के मूड में, व्यापारी एकता पैनल जीतेगा : राठी
व्यापारी एकता पैनल के मीडिया प्रभारी राजकुमार राठी ने विश्वास जताया है कि जीत हमारे पैनल की होगी. इसलिए योगेश अग्रवाल और अन्य प्रत्याशियों की जीत निश्चित है. राठी ने मारपीट की खबर को विरोधियों द्वारा अफवाह फैलाना बताया. उन्होंने कहा कि कल दोपहर 3 बजे तक तस्वीर साफ हो जाएगी.