breaking news New

भानुप्रतापपुर को जिले का दर्जा दें- सुनाराम तेता

भानुप्रतापपुर को जिले का दर्जा दें- सुनाराम तेता

  भानुप्रतापपुर।  भानुप्रतापपुर तहसील को जिला बनाने की मांग अब तेज हो गई है। आम नागरिक व्यापारी वर्ग के साथ जनप्रतिनिधी भी सामने आने लगे है। इस संबंध में जनपद पंचायत भानुप्रतापपुर के उपाध्यक्ष युवा नेता सुना राम तेता ने कहा कि वर्षों से भानुप्रतापपुर को जिला बनाये जाने की मांग किया जा रहा है,जो उचित भी है उन्होंने कहा कि अविभाजित बस्तर जिले में अस्सी के दशक में मात्र आठ तहसीलें थी कांकेर, भानुप्रतापपुर, कोंडागांव, नारायणपुर, जगदलपुर, दंतेवाड़ा,कोंटा, बीजापुर,मगर हमारे भानुप्रतापपुर को अब तक जिला नहीं बनाया गया।  ब्रिटिश कालीन तहसील है जिसके  सरकारी दस्तावेज में मौजूद है,तो वही भानुप्रतापपुर को सबसे पुराना तहसील है वहीं भानुप्रतापपुर वन व खनिज संपदा की बात करें तो भानुप्रतापपुर क्षेत्र में दो वन मंडल है।वन संपदा के क्षेत्र में परिपूर्ण है। यहां के तेंदुपत्ता की गुणवत्ता पूरे छत्तीसगढ़ में नहीं देश में अच्छी है। संग्रहण   की मामले में पहला स्थान रखता है यहां चिरोंजी, और अमचूर पूरे देश मांग करती है।लौह अयस्क की प्रचूर मात्रा में है।क्षेत्र की लौह अयस्क कच्चे,आरीडोंगरी सीएमडीसी,भैसाकनहार( का हाहालद्दी,चेमल,मेटाबोदेली,मांईस संचालित है। जिससे प्रतिदिन हजारों टन लौह अयस्क की परिवाहन हो रहा है।लौह अयस्क के क्षेत्र में प्रर्याप्त संसाधन हैं। इनके अलावा नई मांईस खुलने की तैयारी में है। सोनादाई, कलवर,  भौगौलिक दृष्टि से भी अच्छा है। वहीं बात करें तो भानुप्रतापपुर में जिला स्तरीय कार्यालय वनमंडल कार्यालय दो पूर्व एवं पश्चिम  पशु चिकित्सा विभाग का नाइट्रोजन संयंत्र  , परियोजना कार्यालय, प्रधानमंत्री सड़क योजना कार्यालय, लोक निर्माण विभाग कार्यालय, जल संसाधन विभाग कार्यालय, कृषि विभाग कार्यालय, बिजली विभाग कार्यालय,स्वास्थ्य यांत्रिक कार्यालय, जिला अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कार्यालय जिला अतिरिक्त सत्र न्यायालय ,उपजेल पिच्चेकटृटा आदि संचालित हो रही है। आवागमन की सुविधा से बात करें तो भानुप्रतापपुर से तहसील की दूरी भानुप्रतापपुर  0कांकेर 50 दुर्गूकोंदल - भानुप्रतापपुर से 26किलोमीटर, भानुप्रतापपुर-पंखाजूर 70किलोमीटर भानुप्रतापपुर-अंतागढ़ 30किलोमीटर , भानुप्रतापपुर-कोयलीबेड़ा 52 किलोमीटर है। भानुप्रतापपुर-  सीमावर्ती नारायणपुर की दूरी 80किलोमीटर बालोद की दूरी 60किलोमीटर मानपुर मोहला की दूरी 50किलोमीटर, कांकेर जिला मुख्यालय की दूरी 50किलोमीटर में स्थित है।  चारों दिशाओं से राष्ट्रीय राजमार्ग से जुड़ा हुआ है। राष्ट्रीय रेल मार्ग से भी जुड़ा हुआ है। जिले के सबसे बड़ी राजस्व देने वाली है।इसकी मांग लंबे समय से क्षेत्रवासि, जनप्रतिनिधियों ,व्यापारीयों मांग करते हुए आ रहे। माननीय भूपेश बघेल मुख्यमंत्री जी माननीय मनोज सिंह मंडावी विधानसभा उपाध्यक्ष जी से आशा नहीं पूरा भरोसा है। हमारे भानुप्रतापपुर को जिला की दर्जा जरूर देंगे ।।