breaking news New

निवर्तमान कलेक्टर जय प्रकाश मौर्य को दी गई भावभीनी विदाई

निवर्तमान कलेक्टर जय प्रकाश मौर्य को दी गई भावभीनी विदाई


धमतरी।   धमतरी ज़िले के निवर्तमान कलेक्टर श्री जय प्रकाश मौर्य को आज अधिकारियों द्वारा भावभीनी बिदाई दी गई। कलेक्टोरेट सभाकक्ष में शाम 4.30 बजे से आयोजित इस विदाई समारोह के अवसर पर निर्वतमान  कलेक्टर  मौर्य  ने सबको ज़िम्मेदार नागरिक, प्रशासनिक सेवक बनने और अच्छा इंसान बनने प्रेरित किया। उन्होंने  साथ ही आगे भी सकारात्मक सोच, इच्छाशक्ति, टीम भावना से काम करते रहने पर बल दिया। कोरोना काल में संक्रमण की रोकथाम के लिए जिस टीम वर्क से ज़िले में अधिकारियों द्वारा बतौर नोडल काम किया गया, उसके लिए उन्होंने सबका धन्यवाद दिया और आगे भी सचेत रहकर अपनी ज़िम्मेदारी निभाने प्रोत्साहित किया।                 
       
विदाई की बेला में अपर कलेक्टर दिलीप अग्रवाल ने कलेक्टर मौर्य के लगभग एक साल 10 दिन के कार्यकाल को एक बेहतरीन कार्यकाल बताया। उन्होंने कहा कि कलेक्टर श्री मौर्य से बहुत कुछ सीखने, जानने का सुखद अनुभव उन्हें मिला। आयुक्त, नगरपालिक निगम धमतरी  मनीष मिश्रा ने उन्हें ज़िला प्रशासन परिवार का मुखिया संबोधित करते हुए सबका ध्यान रखने और तकलीफ को समझने वाले कलेक्टर के रूप में निरूपित किया।   राजस्व मामलों में कलेक्टर श्री मौर्य की अच्छी-खासी पकड़ और अनुभव का लाभ राजस्व अमले को मिलने पर  उनका साधुवाद भी किया।
इस अवसर पर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व धमतरी श्री चंद्रकांत कौशिक ने कलेक्टर के साथ बिताए अपने कार्यकाल के अनुभव की सबको साथ साझा करते हुए बताया कि वर्ष 2010 बैच के आईएएस और धमतरी ज़िले के निवर्तमान कलेक्टर श्री मौर्य के साथ राजनांदगांव में भी काम करने का अवसर मिला। उनके क्लीयर कॉन्सेप्ट और संवेदनशीलता को अनुकरणीय कहने में कोई दो राय नहीं है। वे ज़िले के प्रशासनिक मुखिया होने के बावजूद लोगों के सुझाव को आमंत्रित कर बेहतर सुझाव को स्वीकारते भी रहे। उनके मार्गदर्शन में कोरोना संक्रमण से बचने के लिए किए गए उपायों और मिले बेहतर नतीजों को भी बैठक में उपस्थित अधिकारियों ने अपने उद्बोधन में काफी सराहा । विदाई समारोह में सबने कलेक्टर मौर्य के उज्जवल भविष्य और सेहत के लिए अपनी शुभकामनाएं दी। 


ज्ञात हो कि मई 2020 से ज़िले में बतौर कलेक्टर रहे श्री मौर्य का स्थानांतरण हो गया और वे अब संचालक भौमिकी और खनिकर्म, संचालक टाउन एंड कंट्री प्लानिंग और प्रबन्ध संचालक छत्तीसगढ़ राज्य खनिज विकास निगम के रूप में अपनी सेवाएं देंगे।  आज कलेक्ट्रेट में आयोजित विदाई समारोह के अवसर पर सभी ज़िला स्तरीय अधिकारी और कर्मचारी मौजूद रहे।