breaking news New

देश में विकास और सुशासन की मिसाल बन चुका उत्तरप्रदेश

देश में विकास और सुशासन की मिसाल बन चुका उत्तरप्रदेश

लखनऊ।  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दावा किया कि 2017 से पहले अपराध और पिछड़ेपन का शिकार माना जाने वाला उत्तर प्रदेश पिछले साढ़े चार साल के दौरान देश में विकास और सुशासन की मिसाल बन चुका है और उनकी सरकार ने चुनाव से पहले संकल्पपत्र की एक-एक घोषणाओं को पूरा किया है।

श्री योगी ने रविवार को लोकभवन में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में अपनी सरकार की साढ़े चार साल की उपलब्धियों की विस्तार से चर्चा की। उन्होंने कहा कि 2017 में संकल्पपत्र में जो घोषणाएं की थी एक-एक वादे को सरकार पूरा करने काम किया है। उन्हाेंने कहा कि 2022 में उत्तर प्रदेश विधानसभा के चुनाव आयेंगे और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) 350 सीट पाकर के फिर से भारी बहुमत के साथ सरकार बनायेंगी।

उन्होंने कहा कि मैं अपनी पूरी टीम की ओर से प्रदेश की 24 करोड़ जनता को हृदय से बधाई देता हूं। उन्होंने कहा कि अभिभाव स्वरुप यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में आज हमारी सरकार सफलतापूर्वक साढ़े चार वर्ष पूरे कर रही है। यह कार्यकाल आबादी में सबसे बड़े राज्य, उस प्रदेश के लिए सुरक्षा व सुशासन की दृष्टि से अत्यंत महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि सुरक्षा और विकास के क्षेत्र में राज्य सरकार ने जो उपलब्धियां हासिल की इससे देश दुनिया में उत्तर प्रदेश के प्रति लोगों का नजरिया बदला है।

श्री योगी ने कहा कि में 2012 से 2017 के पहले प्रदेश में गुंडे माफिया सत्ता संरक्षण प्राप्त करके भय का माहौल बनाए रहते थे और अराजकता फैलाते थे। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार में औसतन हर तीसरे-चौथे दिन एक दंगा होता था, लेकिन पिछले साढ़े चार वर्षो में प्रदेश में कोई दंगा नहीं हुआ। हमारी सरकार ने गुण्डे बदमाशों के खिलाफ काम किया। उन्होंने कहा कि अपराधियों के डर से प्रदेश में निवेशक आने से कतराते थे। केन्द्र सरकार की योजनाओं का क्रियान्वयन पारदर्शिता के साथ नहीं होने से गरीब और किसान बदहाल हालत में थे।

उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार ने सत्ता में आने के बाद संगठित अपराध पर नकेल कसी और माफियाओं की 1800 करोड़ों की संपत्ति को जब्त किया और उनके अवैध निर्माण ध्वस्त कराने का काम किया गया। माफियाओं के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई की गयी। अब यहां शांति का वातावरण है। उन्होंने कहा कि सरकार ने उद्योग धंधे लगाने पर आ रही जटिलताओं का समाधान किया गया, जिसके चलते निवेशकों का रूझान प्रदेश की तरफ गया। यहां निवेश के साथ ही रोजगार के अवसर पैदा हुये।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले लखनऊ में नेता अपने लिए हवेलियां बनाते थे लेकिन भाजपा सरकार ने गरीबों के लिए बगैर भेदभाव किए 42 लाख मकान बनाए हैं । उन्होंने कहा कि बीज,खाद और कृषि उपकरणों में सब्सिडी के साथ ही किसानों की उनकी उपज का वाजिब मूल्य देकर उनकी आमदनी मेें इजाफा करने का काम किया।

उन्होंने कि वर्ष 2007 से 2016 के बीच राज्य में सपा और बसपा की सरकारें सत्ता में रहीं। मायावती सरकार के कार्यकाल मे 16 लाख इंदिरा आवास का निर्माण हुआ जबकि सपा सरकार में 13 लाख आवास ही तैयार हो सके। इनके मुकाबले मौजूदा सरकार में 42 लाख से अधिक प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवासों का निर्माण किया गया है जबकि मुख्यमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) में एक लाख 8 हजार 495 आवासों का निर्माण किया गया।