DMF Fund के 500 करोड़ से छत्तीसगढ़ सरकार कोरोना से लड़ेगी जंग

DMF Fund के 500 करोड़ से छत्तीसगढ़ सरकार कोरोना से  लड़ेगी जंग

रायपुर, 09 अप्रैल | कोरोना वायरस (कोविड 19) संक्रमण की रोकथाम में जुटी राज्य सरकार को जिला खनिज निधि (डीएमएफ) की 30 फीसद राशि का इस्तेमाल कोरोना से लड़ाई के लिए केंद्र सरकार ने डीएमएफ के 506 करोड़ के इस्तेमाल की अनुमति दे दी है। राज्यसभा सदस्य सरोज पांडेय ने केंद्र सरकार से अनुमति मिलने की जानकारी दी।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना से बचाव के लिए डीएमएफ का 30 प्रतिशत उपयोग करने की प्रदेश सरकार को छूट दी है। छत्तीसगढ़ में फरवरी के बाद बचे डीएमएफ एक हजार 686 करोड़ में से 506 करोड़ का सरकार उपयोग करेगी । इस फंड का उपयोग मेडिकल कॉलेजों, जिला चिकित्सालयों में वेंटिलेटर, आइसोलेशन वार्ड, मास्क, स्ट्रालाइजर जैसे उपकरणों की खरीद में की सकती है।

प्रधानमंत्री खनिज क्षेत्र कल्याण योजना (पीएमकेकेकेवाई) के माध्यम से जिला स्तर पर डीएमएफ राशि का 30 फीसदी हिस्सा कोरोना से लड़ने और विकास में खर्च किए जाने का आदेश केंद्र सरकार के खाद्य मंत्रालय ने 28 मार्च को जारी किया था।ये खर्च केवल प्रभावित क्षेत्रों में करने का है  डीएमएफ के मौजूदा नियम और प्रावधानों के अनुसार इस फंड का उपयोग पूरे प्रदेश में नहीं किया जा सकता है। मौजूदा कानून के तहत इसका उपयोग केवल खनिज प्रभावित क्षेत्र और वहां रहने वालों के विकास पर ही खर्च हो सकता है। केंद्र सरकार से अनुमति मिलने के बाद अब इस राशि का उपयोग खनिज प्रभावित क्षेत्रों के साथ ही पूरे राज्य में कोरोना के खिलाफ जंग में उपयोग किया जा सकेगा।