breaking news New

गर्भवती माता और शिशुवती माताओं ने लगाए वेक्सीन, कोविड टीकाकरण निगम की पहली प्राथमिकता

 गर्भवती माता और शिशुवती माताओं ने लगाए वेक्सीन, कोविड टीकाकरण निगम की पहली प्राथमिकता

 रायगढ़ । जिला कलेक्टर भीमसिंह के मार्गदर्शन में स्वस्थ रायगढ़ शहर बनाने के लिए नगर निगम और उसका स्वास्थ्य अमला हर मोर्चे पर डटा हुआ है। फि र चाहे साफ-सफाई  की मूलभूत बात हो या फिर कोविड वैक्सीनेशन की।
नगर निगम के जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों के मार्गदर्शन में पूरे शहर में कोविड टीकाकरण का कार्य तेजी से चल रहा है। यही कारण है कि शहर में 70 फीसदी लोगों को टीके का कम-से-कम एक डोज लग चुका है। अब ज्यादातर वही लोग बचे हैं जिन्हें कोरोना संक्रमण हुआ था, गर्भवती व शिशुवती महिलाएं हैं।
सोमवार को नगरीय क्षेत्र में 34 टीकाकरण केंद्र बनाए गए थे जहां लोगों को लाने की जिम्मेदारी नगर निगम ने ली थी।
सोमवार सुबह से ही सभी टीकाकरण केंद्रों में सफाई दारोगा निगरानी कर रहे थे और अपने आसपास के लोगों को टीकाकरण केंद्र आने की बात कर रहे थे। निगम का राजस्व अमला और उसके 22 आरआई घर-घर जाकर लोगों को टीका लगाने के लिए प्रेरित कर रहे थे। साथ में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और मितानिनें भी लोगों को केंद्र तक लाने में लगी हुई थी।
दुर्गा ठाकुर हरदिहा गली रामभाटा ने बताया कि मैं प्रेग्नेंट हु पर मैंने आज वेक्सीन लगाया डॉक्टर से परामर्श भी लिया था,लगने के बाद मुझे कुछ भी अलग प्रभाव नही हुआ,सामान्य इंजेक्शन की भांति ही लगा,मैं अन्य गर्भवती बहनों से कहना चाहूंगी कि निश्चिन्त होकर टिका लगाये।
तिलोत्तमा शर्मा राम भाटा ने बताया कि मेरा एक छोटा 1 साल का बेटा है जो अभी भी स्तनपान करता है,मैं कोविड के वेक्सीन लगाने इंतजार कर रही थी आज जब पता चला कि गर्भवती और शिशुवतीयो को वेक्सीन लग रहा है तो मैं अपने नजदिक के वेक्सिनेशन सेंटर में जाकर वेक्सीन लगा ली हूँ,मुझे किसी प्रकार की परेशानी नहीं हुई ,मैं सभी शिशुवतीयो से अपील करना चाहूंगी कि वे भी नि:संकोच वेक्सीन लगाये।
इधर नगर निगम को कमांड सेंटर के रूप में तब्दील कर दिया गया था। निगम की एक टीम जिसमें कुछ पार्षद और जनसंपर्क विभाग के कर्मी लोगों को फोन लगाकर टीके की उपलब्धता और केंद्र के बारे में जानकारी दे रहे थे। जनसंपर्क विभाग के दीपक आचार्या ने बताया कि उनके व साथियों के पास 15 हजार ऐसे लोगों के नाम थे जिन्हें कोविड संक्रमण हुआ था और उनका 84 दिन का समय पूरा हो चुका है तो इन्हें ही टीके के लिए फोन करके बुलाने की जिम्मेदारी थी।
आरती स्वर्णकार बताती हैं कि कोविड संक्रमण से उबर चुके लोगों के साथ ही उनके पास गर्भवती महिलाओं और शिशुवती महिलाओं की लिस्ट थी जिन्हें वह सुबह से टीके के बारे में समझा रहीं थी।
नगर निगम के सफाई दारोगा अरविंद द्विवेदी बताते हैं  डेंगू व मलेरिया के खतरे को देखते हुए हम अलर्ट मोड पर हैं। नियमति सफाई के साथ ही दवा का छिड़काव किया जा रहा है। इसके अवाला हमें कोविड टीकाकरण के लिए लोगों को प्रेरित करने व टीकाकरण केंद्र की निगरानी की भी जिम्मेदारी दी गई है। निगम के साथी कर्मचारी भी अपने-अपने स्तर पर लगे हुए हैं लोगों को केंद्र तक ला रहे हैं
*स्वास्थ्य विभाग ने पूरी ताकत झोंकी : स्वास्थ्य मंत्री कमल पटेल
नगर निगम के स्वास्थ्य मंत्री कमल पटेल बताते हैं महापौर के स्वस्थ रायगढ़ के सपने को साकार करने में निगम का पूरा स्वास्थ्य अमला जुटा है। कोविड रोकथाम, डेंगू-मलेरिया रोकथाम के साथ ही कोविड टीकाकरण, हमारे पास जिम्मेदारियां बढ़ी हैं पर पूरा विभाग अपनी पूरी ताकत के साथ काम कर रहा है। समय के बंधन में बंधकर कोई भी कर्मी काम नहीं कर रहा है। सफाई कर्मी सुबह 4 बजे से काम में लग जाते हैं तो ऑफिस का काम देखने वाले देर रात तक निगम में डटे रहते हैं।
धांगरडीपा वार्ड की पार्षद अनुपमा शाखा यादव कहती हैं  सोमवार को शहरी क्षेत्र में कोविड वैक्सीन का महाभियान चलाया गया था ठीक वैसे ही जैसे एक महीने पहले पूरे जिले में चलाया गया था। तब हमनें अपने वार्ड के वैक्सीन केंद्र में लोगों को पौधे देकर प्रोत्साहित किया था। हमारे वार्ड में अधिकतर पात्र लोगों को टीका लग गया है। जो छूटी हैं उनमें शिशुवती और गर्भवती महिलाएं हैं जिन्हें प्रेरित करने के लिए मैं खुद घर-घर जा रही हूं।
शीघ्र ही शत प्रतिशत लक्ष्य पा लेंगे महापौर : जानकी काटजू
महापौर जानकी काटजू कहती हैं कोविड संक्रमण की रोकथाम और कोविड टीकाकरण में निगम अमला बीते एक साल से लगातार काम कर रहा है। शहरी क्षेत्र में फिलहाल कोविड संक्रमण कम है और अभी हमारा सारा फोकस टीकाकरण पर ही है। हमें उम्मीद है कि शीघ्र ही पूरे शहर में हम शत प्रतिशत कोविड टीकाकरण के लक्ष्य को हासिल कर लेंगे। तब तक लोग कोविड अनुरूप व्यवहार का पालन  करें। खतरा कम हुआ पर टला नहीं है। इसलिये वेक्सीन अवश्य लागये।
महा अभियान में शामिल नोडल एवं वार्ड प्रभारी
निगम आयुक्त ने डिप्टी कमिश्नर सुतीक्षण यादव को कोविड 19 टिकाकरण नोडल प्रभारी अधिकारी नियुक्त किया साथ ही सहायक प्रभारी नोडल अधिकारी हरिकेश्वर लकड़ा,मकरध्वज मालाकर, को बनाया गया जिनके नेतृत्व में हीराधार राठिया, विजेंद्र गुप्ता, यज्ञा सिदार,राजेश पंडा, मुन्ना ओझा ,दिलीप उराव,कमलेश सिंह, आशीष शर्मा एस एन अघरिया रोहित मिर्रे, शिव कुमार यादव,केदार पटेल एवं
वार्ड प्रभारियों में रजनीता कुजुर ,शिवकुमारी तिवारी, परमेश्वर सिंह, मनोज पटेल ,लीलाराम लहरे,आशीर्वाद सिंह, प्रमिला सिदार ,नीता कंवर ,खेमराज पटेल, राजश्री चौबे, योगेश पटेल, उषा महतो, कन्हैया होता, अरविंद द्विवेदी, नंदराम पटेल, पूजा पटेल, रागिनी साव, ललिता सिदार, विकास कोंद,पीर मोहम्मद,सोहिता बाजपेई, दिलीप महापात्र,मनोरमा सदावर्ती, शमीम अख्तर अंसारी, टीका राम राठिया,संजय शर्मा, सरिता गायत्री, शास्त्री प्रधान, अमित केसरवानी, रमेश दास,महेश चौहान,कमलेश मिश्रा, राजकुमार मिश्रा, दीपक पटेल,अंगद भारती, किशन नामदेव, नागेंद्र ठाकुर, बृजेश पांडेय, प्रदीप पटेल,अरुण यादव,मनमोहन सिंह सिदार,माया वर्मा,हृदय राम पटेल,राजेश दास बैरागी,यशवंत साहू,राम रतन पटेल,निरंजन गुप्ता, राम नारायण तिवारी रहे।