breaking news New

सांसद नेताम ने राज्यसभा में उठाया सहकारी शक्कर कारखाना का मुद्दा, कहा - व्यापक पैमाने पर किया जा रहा भ्रष्टाचार

 सांसद नेताम ने राज्यसभा में उठाया सहकारी शक्कर कारखाना का मुद्दा, कहा - व्यापक पैमाने पर किया जा रहा भ्रष्टाचार

रायपुर। भाजपा से राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम ने संसद में छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिला में संचालित मां महामाया सहकारी शक्कर कारखाना मर्यादित का मामला उठाया। उन्होंने आरोप लगाया कि कारखाना में व्यापक पैमाने पर भ्रष्टाचार किया जा रहा है
    सदन में  नेताम ने कहा कि मां महामाया सहकारी शक्कर कारखाना मर्यादित केरता में व्यापक भ्रष्टाचार किया जा रहा है जिसके कारण किसानो को भारी आर्थिक क्षति हो रही है तथा कारखाने को भी चपत लगाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के दुसरे शक्कर कारखाने में मोलासीस को 6500 प्रति टन से लेकर 7000 प्रति टन के दर से बिक्रय किया गया है वहीं मां महामाया शक्कर कारखाने में बिना निविदा आमंत्रित किए 5500 कि दर से भ्रष्टाचार कर अपने चहेते फर्म को मोलासीस बेच दिया गया है। केंद्र सरकार के द्वारा 33 किलो की दर से शक्कर बेचने का दर तय किया गया है जिसमें बगैर निविदा के भ्रष्टाचार कर 31 किलो में शक्कर बेच दिया गया है।
उन्होंने कहा कि बिना वैकेंसी के सैकड़ों नियुक्तियां की गई है और उसमे से ज्यादातर कर्मचारी फैक्टरी में कार्यरत नहीं है और उनका वेतन उनके खाते में जमा किया जा रहा है। गन्ना परिवहन के निविदा में भी व्यापक पैमाने पर भ्रष्टाचार किया गया है जिसकी जांच कर दोषियों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही किया जाना चाहिए।