breaking news New

दुनिया का सबसे ऊंचे रेलवे पुल के जरिये 2022 तक कश्मीर जुड़ जायेगा पूरे भारत से

दुनिया का सबसे ऊंचे रेलवे पुल के जरिये 2022 तक कश्मीर जुड़ जायेगा पूरे भारत से

श्रीनगर। कश्मीर घाटी को पूरे भारत से जोड़ने वाला  चिनाब नदी पर बन रहे दुनिया के सबसे ऊंचे रेलवे पुल का काम अगले साल तक पूरा हो जाएगा। अधिकारियों ने रविवार को कहा कि पुल पूरा होने के बाद 2022 तक कश्मीर घाटी को पूरे भारत से जोड़ दिया जाएगा। इस पुल का सेंट्रल स्पैन 467 मीटर है और इसकी नदी के तल से ऊंचाई 359 मीटर है। पुल की ऊंचाई का अंदाजा इस बात से लगाइए कि कुतुबमीनार की ऊंचाई 72 मीटर और पेरिस के एफिल टावर की ऊंचाई 324 मीटर है।

सरकारी अधिकारियों ने बताया कि यह दुनिया का सबसे ऊंचा ब्रिज है। इसकी डिजाइनिंग इस तरह की है कि यह 266 किलोमीटर प्रति घंटे तक की हवा को झेल सकता है। पिछले एक साल में इस पुल के निर्माण कार्य में काफी तेजी आई है। कश्मीर घाटी को रेलवे नेटवर्क से जोड़ने के लिए पुल के काम की निगरानी सीधे केंद्र सरकार कर रही है।

जम्मू-कश्मीर में इससे पहले उधमपुर-कटरा (25 किलोमीटर), बनिहाल-काजीगुंड (18 किलोमीटर) और काजीगुंड-बारामुला सेक्शन (118 किलोमीटर) पहले ही खोला जा चुका है। अभी आखिरी कटरा-बनिहाल सेक्शन (111 किलोमीटर) काम चल रहा है। इस सेक्शन को दिसंबर 2022 तक खोलने की तैयारी है। इस सेक्शन में 174 किलोमीटर की सुरंगों में से 126 किलोमीटर का काम पहले ही पूरा हो चुका है।

अधिकारियों ने बताया कि साल 7 नवंबर 2015को प्रधानमंत्री विकास पैकेज (पीएमडीपी) के तहत विभिन्न प्रॉजेक्ट्स के लिए 80,068 करोड़ रुपये मिले थे। पैसे आने के बाद इस प्रॉजेक्ट के काम में भी काफी तेजी आई है। अधिकारियों के मुताबिक, इस विकास पैकेज से कई अहम काम किए जा रहे हैं।