खाद्यान्न वितरण में गड़बड़ी, देवरमाल के अध्यक्ष और सचिव पर गबन की रिपोर्ट दर्ज

 खाद्यान्न वितरण में गड़बड़ी, देवरमाल के अध्यक्ष और सचिव पर गबन की रिपोर्ट दर्ज


सक्ती। खाद्यान्न वितरण में गड़बड़ी को लेकर अनुविभागीय अधिकारी डॉ  सुभाष राज  ने  पंचायत में  पीडीएस  वितरण में गड़बड़ी की शिकायत पर तत्काल संज्ञान लेते हुए जांच के आदेश दिए  हैं।  कई समूह के द्वारा खाद्यान्न वितरण में गड़बड़ी की जा रही थी जिस पर ग्राम वासियों द्वारा इसकी सूचना देकर जांच करवाने की मांग की  है जिन -जिन जगहों से शिकायत प्राप्त हो रही है खाद्य अधिकारी सहित तहसीलदार नायब तहसीलदार पटवारी के माध्यम से टीम गठन कर सभी उचित मूल्य दुकानों की जांच कराई जा रही है इनके द्वारा लगातार कार्रवाई को लेकर  शासकीय उचित मूल्य वितरण करने वाले समूह सरपंच सचिव मैं हड़कम मच गई  वही ग्राम पंचायत देवर माल के  संतोषी महिला स्व सहायता समूह की शिकायत प्राप्त हुई थी।  जिस पर खाद्य अधिकारी एवं तहसीलदार की टीम गठन कर  पीडीएस दुकान का जांच कराया गया इसमें भारी मात्रा में राशन  सामग्री  सहित अन्य  सामग्री की कमी पाई गई जिस पर महिला  स्व सहायता समूह के खिलाफ कई धाराओं के तहत  कार्रवाई करते हुए गबन की रिपोर्ट सक्ती थाने में दर्ज हुई।


ज्ञात ही कि शासन द्वारा लगातार निर्देश के बाद भी  उचित मूल्य दुकान संचालक गड़बड़ी करने से बाज नही आ रहे है। लगातार गड़बड़ी की शिकायत मिलने के बाद सक्ती एसडीएम डॉ सुभाष सिंह राज ने उचित मूल्य दुकान की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए गए है।  तत्काल  जांच दल का गठन किया  है वही ग्राम पंचायत देवर माल  संतोषी महिला स्व सहायता समूह  के लिए जांच दल तहसीलदार बी एक्का के साथ खाद्य निरीक्षक जितेंद्र दिनकर की अगुवाई में जांच टीम बनाई गई। जांच टीम द्वारा जांच में पाया गया कि शासकीय उचित मूल्य दुकान देवरमाल आईडी 542007042 के अध्यक्ष व सचिव द्वारा 64.42 क्विंटल चांवल, 4 किलो शक्कर, 71 किलो नमक की अफरा तफरी की गई है। जो सार्वजनिक वितरण प्रणाली नियंत्रण आदेश 2016 की कंडिका 11(2), 11(5), 11(11), 13(2), 13(1), 15 का उल्लंघन है। खाद्यान्न सामग्री की कुल कीमत दो लाख अड़तालीस रुपये तैंतीस पैसे का गबन सामने आया है। जिस पर खाद्य निरीक्षक जितेंद्र दिनकर द्वारा सक्ती थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई। वहीं खाद्य निरीक्षक के सूचना पर सक्ती थानेदार ने दुकान के अध्यक्ष वेदकुमारी और सचिव फुलबतिया के विरुद्ध भादवी की धारा 409, 420, 34 आवश्यक वस्तु अधिनियम (3)(7) अंतर्गत रिपोर्ट दर्ज कर विवेचना में लिया।

इस संबंध में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व डॉ सुभाष सिंह राज से बात की गई तो उन्होंने बताया कि लगातार कई दुकानों की शिकायतें मिल रही थी जिस पर जांच कर कार्रवाई की जा रही है। लॉक डाउन के दरमियान तीन दुकान संचालकों पर गबन जैसे आरोपों में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है और कई अन्य दुकानों की जांच चल रही है जांच प्रतिवेदन पश्चात उन पर भी कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 

chandra shekhar