breaking news New

बड़ी खबर : 4 दिन के बेटे को जिंदा कुंए में फेंक कर हत्या, पुलिस ने गिरफ्तार कर चाची को भेजा जेल

बड़ी खबर :  4 दिन के बेटे को जिंदा कुंए में फेंक कर हत्या,  पुलिस ने गिरफ्तार कर चाची को भेजा जेल

 बलौदाबाजार। छत्तीसगढ़ के बलौदाबाजार जिले में जेठानी के बेटे को सगी चाची ने  कुंए में फेंक हत्या कर दिया। मामले की शिकायत पर पुलिस ने जांच के बाद महिला के खिलाफ धारा 302 के तहत अपराध दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है।

मिली जानकारी के के अनुसार 3 अक्टूबर को पिकरी गांव थाना कसडोल निवासी दुखीराम निषाद ने थाने में रिपोर्ट दर्ज करायी कि प्रार्थी का  4 दिन का पोता शाम दोपहर 2.20 बजे बिस्तर से गायब हो गया है। जिसके बाद पुलिस तुरंत मौके पर पहुंच गई और जांच करने लगी। इस दौरान पुलिस ने घरवालों से भी पूछताछ की, गांव में बच्चे का पता लगाया। इसके अलावा पुलिस को गांव में जिन पर भी शक था, उनसे भी पूछताछ की। इसके बावजूद कुछ पता नहीं चल सका था। अगले दिन 4 अक्टूबर को पुलिस फि र से पिकरी गांव पहुंची और घरवालों से भी कड़ाई से पूछताछ करने लगी। इसमें आरोपी महिला संजना बाई ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। यह सुनते ही घरवालों के होश उड़ गए। आरोपी ने बताया कि उसकी एक लड़की है, जबकि उसकी जेठानी राधाबाई के नवजात सहित 2 बच्चे थे। लड़की होने की वजह से घर वाले उसे कम प्यार करते थे। संजनाबाई ने बताया कि 3 अक्टूबर की शाम उसकी सास जब कमरे में गई थी, उस दौरान बच्चा बिस्तर पर अकेला था। घरवालों को शक न हो इसलिए उसने सास को बताया कि वो अपनी बच्ची को शौच कराने के लिए बाहर जा रही है और वो भी घर से निकल गई। 5 मिनट बाद संजना वापस आ गई। इसके बाद उसने बच्चे को साड़ी के टुकडे में लपेटा और कुएंं में फेंक दिया। उसने बताया कि फेंकने के बाद उसने साड़ी के टुकड़े को दीवार के पीछे छिपा दिया था। पुलिस ने आरोपी महिला को 5 अक्टूबर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। शव को भी कुएं से निकाल लिया गया था।