breaking news New

जशपुर जिले में राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय स्तर से संपर्क में रहे 2363 लोगों को होम आइसोलेशन में रखा गया

जशपुर जिले में राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय स्तर से संपर्क में रहे 2363 लोगों को होम आइसोलेशन में रखा गया

जशपुर, 27  मार्च | नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने शासन-प्रशासन स्तर पर युद्ध स्तर पर कार्य किया जा रहा है। हर आने-जाने वालों पर प्रशासन की नजर है और हर एक सूचना को गंभीरता से लेते हुए प्रशासन काम कर रही है। अब तक मिली जानकारी के मुताबिक जशपुर जिले में राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय स्तर से संपर्क में रहे 2363 लोगों को होम आइसोलेशन में रखा गया है। हर विकासखंड हर पंचायत के माध्यम से सूची तैयार करते हुए अधिकारियों के द्वारा निगरानी की जा रही है। मिली जानकारी के मुताबिक 2363 में से फरसाबहार के 241, कांसाबेल के 164, कुनकुरी 684, लोदाम जशपुर के 234, मनोरा 199, पत्थलगांव 509, दुलदुला 62 व शेष बगीचा के लोग हैं।

विदेशों से आये 37 लोगों पर खास नजर

स्वास्थ्य विभाग में जिला प्रशासन के द्वारा विदेशों से आने वाले विदेशियों के संपर्क में रहने वालों पर खास नजर रखी जा रही है इसके तहत 37 लोग चिन्हित किए गए हैं। इसमें जहां सात् इटली के लोग थे और वापस चले गए। वहीं शेष भारतीय हैं जो विदेशों से होकर लौटे हैं। इटली से 7, बैंगकॉक 2, इंडोनेशिया से 2, usa से 1, सऊदी अरब से 1, कनाडा से 1, बांग्लादेश से 1 व 2 अन्य सहित कुल 17 महिला पुरुष ऐसे हैं जो विदेश से आये। इनमें सात विदेशी थे जो इटली वापस जा चुके हैं, सभी ऑब्जर्वेशन में हैं। 

परिस्थिति के अनुरूप स्वास्थ्य विभाग के द्वारा विशेष संरक्षण आवश्यकता को देखते हुए 37 लोगों को क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया है। इसमे फरसाबहार के सेंटर में 27, कुनकुरी के 7 और बगीचा के क्वारंटाइन जोन में 3 में रखा गया। यह संख्या जरूरत के मुताबिक लगातार बढ़ रही है। जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ रंजीत टोप्पो ने बताया कि क्वॉरेंटाइन सेंटर बढ़ाने के साथ ही इनकी क्षमता भी बढ़ाई जा रही है। अब तक 10 क्वारंटाइन तैयार किए गए हैं जिनकी क्षमता डेढ़ सौ से अधिक है।