breaking news New

वोट बैंक की राजनीति पर तीखी आलोचना करते हुए PM ने कहा- सियासत ने तोड़ा देश का गौरव

वोट बैंक की राजनीति पर तीखी आलोचना करते हुए PM ने कहा- सियासत ने तोड़ा देश का गौरव

देहरादून । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जाति-धर्म और वोट बैंक की राजनीति की तीखी आलोचना करते हुए शनिवार को कहा कि इस सियासत ने देश के लोगों का गौरव तोड़ा और जतना में यह सोच पैदा करने का काम किया कि सरकार के बिना उनका गुजरा नहीं चलेगा।

श्री मोदी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने बिना भेदभाव के देश और समाज को मजबूत बनाने की कठिन राह चुनी है। वह उत्तराखंड में 18000 करोड़ रुपये की योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करने के बाद यहां एक जन सभा को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि कुछ राजनीतिक दलों द्वारा समाज में भेद करके, सिर्फ एक तबके को,चाहे वह अपनी जाति का हो, या किसी खास धर्म का हो, उसे ही कुछ देने का प्रयास हुआ, उसे वोट बैंक में बदल दिया गया। इन राजनीतिक दलों ने एक अलग तरीका अपनाया।

श्री मोदी ने कहा कि दुर्भाग्य से, इन राजनीतिक दलों ने लोगों में ये सोच पैदा कर दी कि सरकार ही उनकी माई-बाप है, जब सरकार से मिलेगा, तभी उनका गुजारा चलेगा। यानी एक तरह से देश के सामान्य जन का स्वाभिमान, उसका गौरव कुचल दिया गया, उसे आश्रित बना दिया गया और दुखद यह है कि उसे पता भी नहीं चला।

उन्होंने कहा, “ उनकी विकृति का एक रूप यह भी है कि जनता को मजबूत नहीं, मजबूर बनाओ, अपना मोहताज बनाओ। इस विकृत राजनीति का आधार रहा कि लोगों की आवश्यकताएं पूरी न करो, उन्हें आश्रित बनाकर रखो, हमारा संकल्प है कि जो भी योजनाएं लाएंगे, सबके लिए लाएंगे, बिना भेदभाव के लाएंगे।”

प्रधानमंत्री ने कहा, “हमने वोट बैंक की राजनीति को आधार नहीं बनाया बल्कि लोगों की सेवा को प्राथमिकता दी।हमारा दृष्टिकोण रहा है कि देश को मजबूती दी जाए, हम राष्ट्र प्रथम, सदैव प्रथम के मंत्र पर चलने वाले लोग हैं, दूसरों की सोच और दृष्टिकोण से अलग, हमने एक अलग रास्ता चुना है, हमारा मार्ग कठिन है, मुश्किल है, लेकिन देशहित और जनता के हित में है। ”

उन्होंने कहा कि उनका मार्ग- सबका साथ-सबका विकास का है।इस सभा में उत्तराखंड के राज्यपाल गुरमीत सिंह, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और कई जनप्रतिनिधि शामिल हुए।गौरतलब है कि अगले वर्ष के शुरू में उत्तराखंड विधानसभा चुनाव होने वाले हैं और श्री मोदी ने पिछले कुछ महीनों में राज्य की कई यात्रायें की हैं।