breaking news New

कोरोना के भय से भिलाई इस्पात संयंत्र के कर्मचारियों ने काम बंद करने का किया बहिष्कार

कोरोना के भय से भिलाई इस्पात संयंत्र के कर्मचारियों ने  काम बंद करने का किया बहिष्कार

  

भिलाई।   कोरोना वायरस के चलते भिलाई इस्पात संयंत्र के कर्मचारियों ने  काम बंद करने का बहिष्कार कर दिया है । रेल एंड स्ट्रक्चरल मिल के कर्मचारियों ने काम का बहिष्कार किया । उन लोगों ने रेल पटरी का  उत्पादन भी रोक दिया।  कर्मचारी संयंत्र के प्रबंधन को जानकारी देकर घरों की ओर वापस हो  गए। कोरोना वायरस के खतरे को लेकर आज सुबह 8:30 बजे रेल मिल कर्मियों ने  अपनी एकता दिखाई।

मुख्य महाप्रबंधक से मुलाकात कर संयंत्र को हर संभव बचाने का संकल्प लिया और  वातावरण से अवगत कराया। कहा कि जान है तो जहान है। रेल मिल हमेशा से नए-नए कीर्तिमान और रिकॉर्ड बनाता रहा है। अभी कर्मियों की जिंदगी बचाना ही सबसे बड़ा काम है।

कर्मियों की जिंदगी बचेगी तो भविष्य में और नए नए कीर्तिमान स्थापित करेंगे। अभी हम रोलिंग नहीं कर सकते कहकर उन्हें अवगत कराया। 

सीटू के नेतृत्व में लॉकडाउन को सफल करने के लिए भिलाई इस्पात संयंत्र के सिंटरिंग प्लांट-3 के सभी कर्मियों ने  छुट्टी पर जाने का फैसला लिया है । उन लोगों ने संक्रमण से बचने के के लिए संयंत्र में काम बंद कर दिया है। 

कर्मियों का आरोप है कि बीएसपी प्रबंधन ने कोरोना संक्रमण से बचने के लिए ठोस कदम नहीं उठाए, जिससे कर्मियों में भय का माहौल है।  कंट्रोल रूम, शिफ्ट रूम आदि जिसमे 24 घंटे कर्मियों का जमावाड़ा रहता है। उसे सेनेटाइज नहीं किया जा रहा। कर्मियों को हैंड सेनिटाइजर नहीं दिया गया है।

इस्पात संयंत्र प्रबंधन की लापरवाही देखते हुए सभी ने घर मे अपने परिवार के साथ लॉक डाउन में शामिल रहने का निर्णय लिया।


chandra shekhar