breaking news New

मौलिक अधिकारों के खिलाफ अशोक कश्यप एवं नंदकिशोर यादव ने लगाई हाईकोर्ट में याचिका

 मौलिक अधिकारों के खिलाफ अशोक कश्यप एवं नंदकिशोर यादव ने लगाई हाईकोर्ट में याचिका

रायपुर । छग संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा लंबे समय से काबिज काश्त वनभूमि  चारागान, आदिवासी धरोंहर सिरपुर, बारनवापारा अभ्यारण में औद्योगिक इकाई की घुसपैठ के खिलाफ 66 दिन से सत्याग्रह आंदोलन किया जा रहा है। आंदोलन महासमुंद स्थित तुमगांव खैरझिटी, कौंवाझर, मालीडीह में स्टील पॉवर प्लांट लगाये जाने के खिलाफ किया जा रहा है।

 उक्त मामले में स्टील उद्योगपति को प्लांट लगाने के लिए भाजपा कांग्रेस अवैधानिक रूप से लगे हुए हैं। कलेक्टर महासमुंद नीलेश क्षीरसागर द्वारा उद्योगपति को कानून विरुद्ध संरक्षण दिया जा रहा है। मई दिवस के अवसर पर संपूर्ण देश में वर्षों से शोषित पीडि़त श्रमिकों की रैली वर्षों से निकलती रही है।

 रैली धरना प्रदर्शन आंदोलन लोगों का मौलिक अधिकार है जिसका हनन कलेक्टर महासमुंद द्वारा मई दिवस पर रैली की अनुमति नहीं देने पर किया गया है। 

उक्त आरोप जिलाधीश महासमुंद पर संयुक्त किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अनिल दुबे ने प्रेस क्लब रायपुर में आयोजित पत्रकारवार्ता में बताया। दुबे ने पत्रकारवार्ता में बताया कि मौलिक अधिकार के हनन के खिलाफ अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू कलेक्टर महासमुंद तहसीलदार पटेवा के खिलाफ अशोक कश्यप एवं नंदकिशोर यादव ने छग उच्च न्यायालय बिलासपुर में याचिका दायर कर मई दिवस पर रैली की अनुमति नहीं देने के संबंध में कठोर कार्रवाई की मांग संबंद्ध के खिलाफ की है।