breaking news New

हेल्प यू एजुकेशनल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट के तत्वावधान में किया गया मातृ दिवस समारोह

हेल्प यू एजुकेशनल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट के तत्वावधान में किया गया मातृ दिवस समारोह

लखनऊ ।  हेल्प यू एजुकेशनल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट के तत्वावधान में मातृ दिवस के अवसर पर, हेल्प यू एजुकेशनल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा मातृ दिवस समारोह का आयोजन किया गया ढ्ढ कार्यक्रम की शुरुआत हेल्प यू एजुकेशनल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट की न्यासी डॉ रूपल अग्रवाल ने दीप प्रज्वलन करके की।  इस अवसर पर केक काटा गया तथा ट्रस्ट द्वारा संचालित सिलाई कौशल प्रशिक्षण कार्यशाला में प्रशिक्षण प्राप्त कर रही लाभार्थियों ने अपने हाँथ से बनाये कपडे अपनी-अपनी माताओं को भेंट किये ढ्ढ मातृ दिवस समारोह में गुंजन शर्मा, मीना सिंह, सीता, रीना, निर्मला, मधु, प्रभा, नेहा मिश्रा, गीता, अनीता, विट्टी का सम्मानित किया गया । 

हेल्प यू एजुकेशनल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट की न्यासी डॉ रूपल अग्रवाल ने कहा कि, "प्रत्येक वर्ष मई के दूसरे रविवार को मदर्स डे का जश्न मनाया जाता है।

संयुक्त राष्ट्र (यूएन) में 1914 में इसकी शुरुआत हुई थी। 1908 में अन्ना जार्विस नामक एक महिला ने मुहिम छेड़ी थी और मांग की थी कि माताओं के त्याग और बलिदान के सम्मान में मदर्स डे मनाया जाना चाहिए। वैसे तो मां का दर्जा भगवान से भी ऊंचा है और मां के आदर-सम्मान के लिये वर्ष का एक दिन नहीं पूरा जीवन कम पङता है।

एक मां जिंदगी में कई फर्ज, कई रिश्ते बिना किसी स्वार्थ के निभाती है। मां का दर्जा भी काफी ऊपर माना जाता है। मां निस्वार्थ भाव से अपने बच्चों से प्यार करती है, अपने पति की देखभाल करती है, घर की देखरेख करती है और बिना किसी छुट्टी के पूरी जिंदगी काम करती है। वर्तमान की केंद्र व प्रदेश सरकार महिला सशक्तिकरण के लिए प्रभावशाली कार्य कर रही है यदि किसी महिला को किसी भी प्रकार की समस्या हो तो वह नि:संकोच मुझसे संपर्क कर सकती है।