breaking news New

दो बड़ी खबर : बाहुबली नेता मोहम्मद शहाबुद्दीन की मौत..तिहाड़ जेल में हुए थे कोरोना संक्रमित..कई साल से जेल में सजा काट रहे थे..कोविड केयर सेंटर में आग..18 की मौत

दो बड़ी खबर : बाहुबली नेता मोहम्मद शहाबुद्दीन की मौत..तिहाड़ जेल में हुए थे कोरोना संक्रमित..कई साल से जेल में सजा काट रहे थे..कोविड केयर सेंटर में आग..18 की मौत

पूर्व सांसद और सीवान के बाहुबली नेता मोहम्मद शहाबुद्दीन का आज सुबह निधन हो गया. शहाबुद्दीन कोरोना वायरस से संक्रमित थे और कोरोना पॉजिटिव होने के बाद उनकी सेहत बिगड़ने लगी थी. दिल्ली के डीडीयू अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था. गुरुवार देर शाम उनकी तबीयत काफी अधिक बिगड़ गई थी.

समाचार एजेंसी के अनुसार, इलाज के क्रम में शुक्रवार सुबह उन्होंने अंतिम सांस ली. शहाबुद्दीन दिल्ली के तिहाड़ जेल में कैद थे. कोरोनावायरस का कहर इस जेल में भी बरपा. जानकारी के अनुसार, जेल में अब तक करीब 90 कैदी और स्टाफ कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं. इन कैदियों के बीच सिवान के पूर्व सांसद और बाहुबली शहाबुद्दीन भी कोरोना की चपेट में आ गए थे, जिसके बाद उन्हें एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

बता दें कि शहाबुद्दीन पिछले कई सालों से तिहाड़ जेल में बंद थे. शहाबुद्दीन दिल्ली के तिहाड़ जेल में सजा काट रहे थे. 21 अप्रैल को तिहाड़ में ही वो कोरोना संक्रमित हुए थे. पिछले दो दिनों से उनकी तबियत काफी अधिक बिगड़ गई थी. बाहुबली मोहम्मद शहाबुद्दीन की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उन्हें आनन-फानन में दिल्ली के दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल में भर्ती कराया गया था. एक निजी न्यूज चैनल पर बात करते हुए राजद के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने उनके निधन पर शोक जताया है और कहा कि पूरा राजद परिवार आज उनके मौत से आहत है. हमें भरोसा था कि उन्हें जल्द न्याय मिलेगा लेकिन ईश्वर को कुछ और मंजूर था.

कोविड केयर सेंटर में आग..18 की मौत

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच एक बुरी खबर गुजरात के भरूज जिले से आ रही है. यहां कोविड केयर सेंटर में बड़ा हादसा हुआ है जिसमें 18 लोगों की जान चली गई है. जानकारी के अनुसार देर रात कोविड सेंटर में भीषण आग लग गई है जिसकी चपेट में आकर 18 लोगों की जान चली गई.

बताया जा रहा है कि आग लगने की घटना देर रात साढ़े 12 बजे के आसपास की है. जिले के पटेल वेलफेयर अस्पताल में कोरोना मरीजों के लिए कोविड केयर सेंटर बनाया गया था. आग लगने के तुरंत बाद यहां भर्ती मरीजों को नजदीकी अस्पताल में शिफ्ट करने का काम किया गया.

इस संबंध में पुलिस ने जानकारी दी कि आग की चपेट में आकर एक दर्जन लोगों की मौत हो गई. आग किस वजह से लगी इसका पता लगाने का प्रयास जारी है. बताया जा रहा है कि इस चार तल्ले में चल रहे हॉस्पिटल में 50 और मरीज भर्ती थे.

टीवी रिपोर्ट के अनुसार हादसे में 18 लोगों की जान गई है जबकि आग लगने के तुरंत बाद यह खबर आई कि आग लगने से 12 लोगों की मौत हुई है.