breaking news New

भूपेश बघेल सरकार की हितैषी नीतियों से छत्तीसगढ़ में किसान खुशहाल, छवि खराब करने भाजपा रच रही षड्यंत्र प्रपंच

 भूपेश बघेल सरकार की हितैषी नीतियों से छत्तीसगढ़ में किसान खुशहाल, छवि खराब करने भाजपा रच रही षड्यंत्र प्रपंच

रायपुर।  प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार के किसान हितैषी कार्यों से छत्तीसगढ़ के किसान खुशहाल हुए हैं किसानों के कर्ज माफी का लाभ 20लाख किसान परिवार को मिला बिजली बिल हाफ धान की कीमत 2500रु क्विंटल एवं राजीव गांधी न्याय योजना के जरिये मक्का और गन्ना उत्पादक किसानों को प्रति एकड़ 10हजार रु राशि मिलने से छत्तीसगढ़ खुशहाल हुआ है।भाजपा निरन्तर किसान विरोधी कृत्यों में लगी हुई है।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार के छवि खराब करने भाजपा षड्यंत्र प्रपंच  झूठे एवं मनगढ़ंत आरोप लगाकर  किसानों को बरगलाने का प्रयास कर रही है।भाजपा द्वारा किसानों को बरगलाने  चलाएंगे भात पर बात और वर्तमान में खेत सत्याग्रह को किसानों ने ठेंगा दिखा दिया।भाजपा के राजनीतिक नौटंकी को किसानों का समर्थन नहीं मिला ।छत्तीसगढ़ के किसान भली-भांति समझ गए हैं यह वही भाजपा है जो 15 साल तक राज्य में सत्ता में रही लेकिन धान को रखने के लिए चबूतरा और गोदाम का निर्माण नहीं कर पाई वादा के अनुसार किसानों को 2100रु धान की कीमत और 300 रु क्विंटल बोनस पांच साल तक नहीं दिया। 

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि राज्य निर्माण के बाद रमन भाजपा का 15 साल का शासन काल धान के कटोरा, अन्नदाता और अन्न के लिए आपदा से कम नहीं था।उस दौरान किसानों के ऊपर बेइंतिहा अत्याचार हुए खेत के लिए पानी मंगने वालों पर लाठी बरसाई गई, किसानों का शोषण किया गया। किसानों के लिए बनाये गए जलाशय की पानी को उद्योगपतियों को बेचा गया।किसानों से सीधा धान खरीदने के बजाए सीमावर्ती राज्यों से तस्करी कर लाये गये धान की रमन सरकार के संरक्षण में सरकारी खरीद होती थी।रमन भाजपा ने  किसानों के बेहतर कल के लिये एवं अन्न को सुरक्षित रखने के लिए कोई उपाय नहीं किया है।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि रमन भाजपा यदि किसानों से किए वादे को पूरा करते तो छत्तीसगढ़ के 20लाख किसान कर्ज से दबे हुए नही होते ।15 हजार किसानों की आत्महत्या की घटनाएं नही होती।रमन भाजपा ने किसानों के साथ वादाखिलाफी दगाबाजी की जिसके चलते किसान अपने खेत खिलहान पशुधन और स्त्रीधन को बेचने मजबूर थे।रमन भाजपा की कमीशन खोरी और भ्रष्टाचार चलते ही छत्तीसगढ़ के खजाने पर 41 हजार करोड़ कर्जभार बढ़ा।जो विरासत में वर्तमान सरकार को मिला जिसका ब्याज भी वर्तमान सरकार चुका रही है। 

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि मोदी सरकार के तीन काला कानून के खिलाफ देशभर में किसान आंदोलन कर रहे हैं छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार किसानों को धान की कीमत 2500रु क्विंटल दे रही है 21लाख से अधिक किसानों से धान की खरीदी की जाएगी।ऐसे में किसान विरोधी भाजपा और भाजपा के नेता मोदी सरकार के तीन किसान विरोधी काला कानून से जनता का ध्यान हटाने के लिए छत्तीसगढ़ में किसानों के धान खरीदी के नाम से राजनीति कर रहे है किसानों के शुभचिंतक होने का ढोंग कर रहे है।मोदी भाजपा के किसान विरोधी चरित्र से छत्तीसगढ़ी नहीं पूरे देश भर के किसान वाकिफ हो चुके हैं।