breaking news New

मानव तस्करी रोकने की कवायद के तहत उत्तर प्रदेश सरकार ने 40 जिलों में एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग थाने की दी मंजूरी

 मानव तस्करी रोकने की कवायद के तहत उत्तर प्रदेश सरकार ने 40 जिलों में एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग थाने की दी मंजूरी

लखनऊ।  महिला एवं बाल सुरक्षा के लिये मिशन शक्ति का संचालन करने के बाद उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने मानव तस्करी रोकने की कवायद के तहत 40 एन्टी ह्यूमन ट्रैफिकिंग थानो की स्थापना को मंजूरी दे दी है।

अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने बुधवार को बताया कि प्रदेश में पहले कुल 35 जिलों में एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग इकाई के थाने थे। यह थाने 2011 और 2016 में स्थापित हुए थे। नए थाने केंद्र सरकार के विमन सेफ्टी डिवीज़न के निर्देश के बाद स्थापित किये गए हैं जिसके लिए केंद्र से इसके लिए धन भी आवंटित कर दिया गया है।

उन्होने बताया कि केंद्र सरकार ने यूपी सरकार को 1440 लाख की वित्तीय सहायता मंजूर की है। केंद्र सरकार के सहयोग से यूपी सरकार 40 जिलों में एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग थाने की स्थापना करेगी।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि राज्य में पहले से 35 जिलों मेरठ, गाजियाबाद, नोएडा, आगरा, झांसी, मुरादाबाद, लखनऊ, इलाहाबाद, प्रयागराज, वाराणसी, बस्ती, बरेली, महाराजगंज, मऊ, कानपुर, गोरखपुर, बिजनौर, जौनपुर, आजमगढ़, फिरोजाबाद, पीलीभीत, सीतापुर, बलिया, बागपत, शाहजहांपुर, मुजफ्फरनगर, कुशीनगर, बाराबंकी, खीरी, बहराइच, बलरामपुर, बदायूं, सिद्धार्थनगर, उन्नाव, हरदोई और श्रावस्ती में एंटी ह्यूमन ट्रेफिकिंग थाने थे।

उन्होने बताया कि जिन 40 जिलों में नये थाने स्थापित किये जायेंगे,उनमें रायबरेली, अमेठी, सुल्तानपुर, अयोध्या, अंबेडकरनगर, हापुड़, बुलंदशहर, सहारनपुर, शामली, बांदा, चित्रकूट, कौशांबी, फतेहपुर, प्रतापगढ़, मथुरा, अलीगढ़, हाथरस, एटा, मैनपुरी, फतेहपुर, देवरिया, संतकबीरनगर, गोंडा, गाजीपुर, चंदौली, संतरविदासनगर, मिर्जापुर, सोनभद्र, अमरोहा, संभल, रामपुर, कासगंज, कानपुर देहात, कन्नौज, इटावा, औरैया, हमीरपुर, महोबा, ललितपुर, जालौन शामिल हैं।

केंद्र सरकार ने पहले से स्थापित 35 थानों को 12 लाख रुपये की दर से 4 करोड़ 20 लाख रुपए और 40 नए थानों के लिए 15 लाख रुपए की दर से छह करोड़ रुपए उत्तर प्रदेश सरकार को दिए हैं।