breaking news New

1962 के वीर शहीदों को यादव महासभा ने दी श्रद्धांजलि

 1962 के वीर शहीदों को यादव महासभा ने दी श्रद्धांजलि

बालकोनगर। अखिल भारतवर्षीय यादव महासभा ने वर्ष 1962 में भारत-चीन के बीच हुए युद्ध में शहीद देश के वीर जवानों के लिए श्रद्धांजलि सभा आयोजित की। देश के लिए अपना सर्वोच्च बलिदान देने वाले जवानों के साथ ही रेजांगला की लड़ाई को याद किया गया। रेजांगला की लड़ाई में कुमाऊं रेजीमेंट 13वीं बटालियन के 120 जवानों ने 2000 से अधिक चीनी सैनिकों से लोहा लिया और उन्हें बड़ा नुकसान पहुंचाया। चूंकि कुमाऊं रेजीमेंट के इन जवानों का संबंध यादव समुदाय से था इसलिए प्रति वर्ष अखिल भारतवर्षीय यादव महासभा प्रति वर्ष 18 नवंबर को पूरे देश में अहीर शौर्य दिवस के रुप में आयोजित करता है। 

बालकोनगर क्षेत्र में अहीर शौर्य दिवस का आयोजन अखिल भारतवर्षीय यादव महासभा के छत्तीसगढ़ प्रदेश युवा उपाध्यक्ष मूरत यादव के नेतृत्व में संपन्न हुआ। सिविक सेंटर में आयोजित समारोह में  यादव के अलावा बालकोनगर क्षेत्र के पाषर्द लुकेश्वर चौहान व कृपाराम साहू तथा युवा जागृति संगठन के अध्यक्ष विकास डालमिया सहित बड़ी संख्या में व्यवसायियों और नागरिकों ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए मोमबत्तियां जलाईं। 

मूरत यादव ने बताया कि अहीर शौर्य दिवस के राष्ट्रव्यापी आयोजन का उद्देश्य देश के जवानों के प्रति सम्मान प्रकट करना और नई पीढ़ी को उनके शौर्य तथा पराक्रम से परिचित कराना है। जवानों के त्याग और बलिदान का ही परिणाम है कि आज हम अखंड राष्ट्र में सांसे ले रहे हैं।  यादव ने यह भी कहा कि अखिल भारतवर्षीय यादव महासभा सरकार का ध्यान लगातार इस बात की ओर ले जा रही है कि रेजांगला युद्ध के स्मारक के तौर पर देश को अहीर रेजीमेंट की सौगात मिले। श्री यादव ने विश्वास जताया कि सरकार अवश्य ही इस ओर सहानुभूतिपूर्वक विचार करते हुए देश के नागरिकों की बहुप्रतिक्षित मांग को पूरा करेगी। 

पार्षद चौहान, साहू के अलावा श्री डालमिया ने आयोजन की प्रशंसा करते हुए कहा कि भारत-चीन युद्ध के दौरान रेजांगला की लड़ाई देश के वीर सपूतों की कभी न भूलने वाली कहानी है। अखिल भारतवर्षीय यादव महासभा ऐसे आयोजनों के जरिए युवा पीढ़ी को उन कुर्बानियों से अवगत कराने का बेहतरीन काम कर रहा है। अहीर रेजीमेंट का गठन रेजांगला युद्ध के रणबांकुरों के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी।  

इस अवसर पर क्षेत्रीय झेरिया यादव समाज के अध्यक्ष माखन यादव, कोरबा जिला सर्वयादव समाज के संरक्षक केदार यादव, कोरबा जिला युवा अध्यक्ष चंद्रमणि यादव के अलावा सतानंद यादव, शेष यादव, अशोक यादव, ममता यादव, विनीता यादव, पी.एल अहीर, कमलेश यादव, गंगाराम यादव, वीर सिंह चौधरी, डी.एस परस्ते, अजय यादव, चंद्रकेश यादव, दीपक सिंह, रवि चौधरी, अरुण राठौर, पवन साहू, प्रवीण पांडे, हेमलाल बंजारे एवं अन्य उपस्थित थे।