breaking news New

असम साहित्य सभा परिषद के पूर्व अध्यक्ष अगप छोड़ बीजेपी में हुए शामिल

असम साहित्य सभा परिषद के पूर्व अध्यक्ष अगप छोड़ बीजेपी में हुए शामिल


गुवाहाटी । असम साहित्य सभा परिषद के पूर्व अध्यक्ष परमानंद राजबोंगशी ने असम गण परिषद (अगप) का साथ छोड़ यहां भाजपा की राज्य इकाई के मुख्यालय में भगवा पार्टी का दामन थाम लिया। राजबोंगशी के साथ राज्य के चाय कर्मी संघ के महासचिव रूपेश गोआला भी भाजपा में शामिल हो गए। भाजपा की राज्य इकाई के अध्यक्ष रंजीत कुमार दास ने असम चुनाव से पहले दोनों नेताओं का पार्टी में स्वागत करते हुए कहा कि उनके आने से पार्टी को और मजबूती मिलेगी तथा लक्ष्यों को हासिल करने में मदद मिलेगी। दास ने यह भी कहा कि पार्टी ने राजबोंगशी को सिपाहजार विधानसभा सीट से उम्मीदवार बनाने का फैसला किया है। राजबोंगशी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आदर्शों और उनके पूर्वोत्तर में शांति तथा विकास सुनिश्चित करने के प्रयासों ने उन्हें भाजपा में शामिल होने के लिये प्रेरित किया। असम चाय मजदूर संघ के नेता गोआला ने इस मौके पर कहा कि वह भाजपा और इसकी विकास योजनाओं का हिस्सा बनकर प्रसन्न हैं।