breaking news New

ब्रेकिंग : हाईकोर्ट से प्रदेश कांग्रेस को निराशा..भाजपा के संबित पात्रा और तेजिंदर पाल सिंह बग्गा को बड़ी राहत..गांधी परिवार पर की थी टिप्पणी तो कांग्रेस ने कराई थी एफआईआर..कोर्ट ने दिया निरस्त करने का आदेश

ब्रेकिंग : हाईकोर्ट से प्रदेश कांग्रेस को निराशा..भाजपा के संबित पात्रा और तेजिंदर पाल सिंह बग्गा को बड़ी राहत..गांधी परिवार पर की थी टिप्पणी तो कांग्रेस ने कराई थी एफआईआर..कोर्ट ने दिया निरस्त करने का आदेश

बिलासपुर. छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ने बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता डाॅ.संबित पात्रा और तेजिंदर पाल सिंह बग्गा को बड़ी राहत दी है. कोर्ट ने उन पर दर्ज एफआईआर को निरस्त करने का आदेश जारी किया है.

कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के बाद कांग्रेस ने राज्य के अलग-अलग थानों में एफआईआर दर्ज की थी. बीते मार्च में हाईकोर्ट ने प्रकरण से संबंधित सभी पक्षों की बहस पूरी करने के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया था. संबित पात्रा के खिलाफ रायपुर के सिविल लाइन और भिलाई के थानों में आपराधिक प्रकरण दर्ज किया गया था, वहीं बग्गा के खिलाफ कांकेर में प्रकरण कायम किया गया था.



संबित पात्रा और तेजिंदर बग्गा ने अपने खिलाफ दर्ज आपराधिक प्रकरण को चुनौती देते हुए हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी. इस याचिका में उन्होंने अपराधिक प्रकरण को राजनीतिक षडयंत्र करार दिया था. साथ ही राज्य शासन पर कानून के दुरूपयोग करने का आरोप लगाते हुए प्रकरण निरस्त करने का आग्रह किया था. प्रारंभिक सुनवाई के दौरान जस्टिस संजय के अग्रवाल ने दंडात्मक कार्रवाई पर रोक लगा दी थी

इस प्रकरण में पिंकी आनंद, अजय बर्मन, विवेक शर्मा बिलासपुर और शरद मिश्र बिलासपुर, अभिषेक गुप्ता नई दिल्ली एवम अवधेश कुमार सिंग, राजेश रंजन और रमाकांत मिश्रा ने पैरवी की थी.

कांग्रेस ने राजनीतिक बदले की भावना से लिया टिप्पणी को : गौरी शंकर श्रीवास

हाईकोर्ट से एफआईआर को निरस्त करने का आदेश जारी होने पर भाजपा प्रवक्ता गौरी शंकर श्रीवास ने फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि डॉ.पात्रा और बग्गा ने महज एक सांकेतिक टिप्पणी की थी जिसका अर्थ सिखों को न्याय दिलाने के नाम पर किया गया था लेकिन कांग्रेस ने इसे राजनीतिक बदले की भावना से देखा और एफआईआर करवा दी थी लेकिन हाईकोर्ट ने सही फैसला दिया.