breaking news New

बांस से बने ढ़ोलो लगी टूटने, निर्माण में भारी अनियमितताएं

बांस से बने ढ़ोलो लगी टूटने, निर्माण में भारी अनियमितताएं

कोरिया।   जिले के सोनहत विकासखण्ड अंतगर्त नवीन ग्राम पंचायत मधला में लगभग 5 लाख की लागत से रोड़ किनारे पौधा रोपण का कार्य 3 महीने पूर्व ही पूर्ण किया गया था । जिसमे पौधों की सुरक्षा के लिए बांस से बने ढ़ोलो को लगाया गया था। जिसके निर्माण  में भारी अनियमितताएं सामने आने लगी है। कई ढोले टूटने लगी है। जिससे देख कर अंदाजा लगाया जा सकता है। कि इसके निर्माण कार्य में सही माप डंडो को दरकिनार करते हुए इसे तैयार  किया गया होगा। ढ़ोलो की वर्तमान स्थिति इस कदर हो गई है कि  ये पौधों को सहारा देने के वजय  खुद सहारे की तलास में है।  जिसे देख कर अनुमान लगाया जा रहा कि इस कार्य मे शासन के पैसा का दुरुपयोग हुआ है ।

बड़े पद पर बैठे जिम्मेदारों ने पौधे और ढोले की सुरक्षा की जिम्मेदारी पंचायत को दे रखी है पर पंचायत है कि सुध नही ले रहा कुछ जिम्मेदारों का कहना है कि अब सुधार के लिए मनरेगा के मजदूर लगाए जाएंगे जो एक कार्य पर शासन  के पैसे को दोबारा खर्च ओर दुगना भार पड़ता नजर आ रहा है। पौधा रोपण कार्य मनरेगा के तहत अगस्त 2020 से प्रारंभ होकर 23 सितंबर 2020 तक पूर्ण हुआ जिसमें ग्रामीणों को तो रोजगार मिला लेकिन पौधों को इस बाँस से बने ढोले का सहारा मिलना महज खाना पूर्ती कर दिया गया ।