breaking news New

बड़ी खबर : चरणबद्ध आंदोलन के तहत 11 अगस्त को संविदाकर्मी बैठेंगे भूख हड़ताल पर

बड़ी खबर : चरणबद्ध आंदोलन के तहत 11 अगस्त को संविदाकर्मी बैठेंगे भूख हड़ताल पर

रायपुर । छत्तीसगढ़ विद्युत संविदा कर्मचारी संघ नियमितीकरण सहित तीन सूत्रीय मांगों को लेकर बुढ़ापारा धरनास्थल में अनिश्चितकालीन धरना 10 अगस्त से प्रारंभ करेगा। उक्त जानकारी प्रेस क्लब रायपुर में आयोजित पत्रकारवार्ता में संघ के अध्यक्ष विवेक भगत, संयुक्त महामंत्री कमलेश भारद्धाज, महामंत्री उमेश पटेल एवं लोकनाथ साहू ने संयुक्त रूप से दी।

वार्ताकारों ने पत्रकारवार्ता में बताया कि 5 वर्ष की सेवा के उपरांत भी छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत मंडल के मुख्य अधिकारी वितरण शाखा द्वारा 2500 संविदा कर्मियों को अब तक नियमित नहीं किया गया है। केवल 8000 रूपए प्रतिमाह वेतन पर बिना तकनीकी जानकारी के विद्युत पोलों पर कर्मियों को चढ़ाकर सुरक्षा उपकरण के बिना विद्युत सुधार कार्य मुख्य लाईनों में कराया जाता है। तकनीकी जानकारी नहीं होने के कारण अब तक कई कर्मी दुर्घटनाग्रस्त हो चुके हैं। दुर्घटनाग्रस्त हुए लोकनाथ साहू ने बताया कि बंद लाईन में अचानक करंट आने से उनका एक हाथ विद्युत तार में चिपकने से ईएसआई अस्पताल में 15 लाख रूपए खर्च करने पर कटवाना पड़ा। विद्युत मंडल के वितरण शाखा के प्रमुख अधिकारियों ने मुआवजे के रूप में उन्हें एक भी रूपए नहीं दिया है।

वार्ताकारों ने बताया कि उनकी अन्य दो मांगों में विद्युत दुर्घटनाओं में शहीद हुए कर्मियों के परिजनों को उचित मुआवजा एवं अनुकंपा नियुक्ति तत्काल दी जाए। विद्युत दुर्घटनाओं में अस्थाई अथवा स्थायी रूप से अपंग हुए कर्मियों को मुआवजा दिया जाए। वार्ताकारों ने बताया कि उनकी सीधी भर्ती विद्युत मंडल द्वारा की गई थी। मैदानी कर्मियों के रूप में की गई भर्ती केवल 10वीं पास शिक्षा के आधार पर की गई। अनेकों बार मुख्यमंत्री एवं अन्य प्रशासनिक विद्युत विभाग के जिम्मेदारों को ज्ञापन देने के उपरांत भी समस्या का समाधान नहीं हुआ है। महामंत्री पटेल एवं भगत ने बताया कि धरना कार्यक्रम के तहत 11 अगस्त को धरनास्थल में मुख्यमंत्री निवास के घेराव के लिए कर्मी रैली बनाकर निकलेंगे। 12 अगस्त को धरना प्रदर्शन विधानसभा का घेराव होगा। 13 अगस्त को काली पट्टी बांधकर कैंडल मार्च निकालेंगे। 14 को शाम को मशाल रैली का आयोजन है। 15 अगस्त को ध्वजारोहरण के उपरांत देश को आजाद कराने वाले स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों एवं विद्युत सुधार कार्य के दौरान शहीद हुए संविदा कर्मियों को श्रद्धांजलि धरनास्थल में दी जाएगी। 16 अगस्त को कंपनी प्रबंधन द्वारा नई भर्ती के विरोध में संविदा कर्मियों द्वारा मुंडन कराया जाएगा। 17 अगस्त को फटा कपड़ा पहनकर भीख मांगेंगे। 18 अगस्त को जमीन में लोटकर प्रदर्शन किया जाएगा। 19 अगस्त को मौन व्रत एवं रात्रिकालीन फ्लैश लाईट अभियान चलाया जाएगा। समस्या का समाधान नहीं होने पर अंतिम विकल्प के रूप में संविदा कर्मियों द्वारा धरनास्थल में भूख हड़ताल एवं आमरण अनशन शुरू किया जाएगा। पत्रकारवार्ता में संविदाकर्मी बड़ी संख्या में उपस्थित थे।