breaking news New

महंत परमहंस दास ने कहा - अगर भारत को हिन्दू राष्ट्र घोषित न किया गया तो मैं जल समाधि ले लूंगा

महंत परमहंस दास ने कहा - अगर भारत को हिन्दू राष्ट्र घोषित न किया गया तो मैं जल समाधि ले लूंगा

अयोध्या।  आचार्य पीठ तपस्वी छावनी के महंत परमहंस दास ने कहा कि हिन्दुस्तान को हिन्दू राष्ट्र घोषित न किया गया तो मैं जल समाधि ले लूंगा।

आचार्य पीठ तपस्वी छावनी रामघाट में आज महंत परमहंस दास के संयोजन में राष्ट्र हित महायज्ञ का आयोजन किया गया। वैदिक मंत्रोच्चार के साथ संतों ने यज्ञशाला में आहुति डाली। इस मौके पर परमहंस ने कहा कि हिन्दुस्तान को हिन्दू राष्ट्र घोषित कराने, जनसंख्या नियंत्रण कानून, गाय को राष्ट्रमाता का दर्जा दिलाने समेत सात सूत्रीय मांगों को लेकर पहले ही वह राष्ट्रपति को पत्र भेज चुके है। उन्होंने कहा कि हमारी सात सूत्रीय मांगों को पूरा किया जाय, नहीं तो मुझे इच्छा मृत्यु की अनुमति दे दी जाय।

तपस्वी छावनी के महंत परमहंस ने कहा कि एक अक्टूबर 2021 तक हमें केन्द्र सरकार के फैसले का इंतजार है। अगर हमारी मांगे पूरी नहीं हुईं तो दो अक्टूबर 2021 गांधी जयंती के दिन मैं सरयू नदी में जल समाधि ले लूंगा। उन्होंने कहा कि यह हमारा सरकार को चेतावनी है। राष्ट्रहित सर्वोपरि है। राष्ट्र के लिये जीना और मरना सन्यासी का एकमात्र धर्म है।

इस बीच महायज्ञ में मौजूद भारत महापरिवार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमरीश देव गुप्ता ने कहा कि परमहंस दास के सात सूत्रीय मांग राष्ट्रहित में है। संत राष्ट्र का सबसे बड़ा चिंतक और सुधारक होता है इसलिए उनकी मांगों को जल्द पूरा किया जाना चाहिये, जो राष्ट्रहित में व सबके लिये है।