breaking news New

अखबार के सुर्खियों में बने रहने के लिए निगम प्रशासन स्वयं दोषी, माली हालत दिनों दिन बत्तर

अखबार के सुर्खियों में बने रहने के लिए निगम प्रशासन स्वयं दोषी, माली हालत दिनों दिन बत्तर

राज्य सहित निगम में कांग्रेस की सत्ता होने के बावजूद कर्मचारियों को तनख्वाह नहीं - किशुन यदु                                                                       

राजनांदगांव । नगर पालिक निगम आए दिन अखबार के सुर्खियों में बने रहने के लिए निगम प्रशासन स्वयं दोषी हैं, क्योंकि निगम से लेकर राज्य में कांग्रेस का सत्ता होने के बावजूद भी सही नेतृत्व नहीं होने के कारण निगम की माली हालत दिनों दिन बत्तर होते जा रहे हैं, नगर पालिक निगम नेता प्रतिपक्ष किशुन यदु ने महापौर श्रीमती हेमासुदेश देशमुख को आड़े हाथ लेते हुए बताया निगम कर्मचारियों को समय पर उनकी मेहनत की कमाई का वेतन नहीं मिलना यहां कांग्रेस की सत्ता में होने के बावजूद बहुत बड़ी दुर्भाग्य की बात है, निगम के कर्मचारी समय पर तनखा नहीं मिलने के कारण साहूकारों से कर्ज लेकर दबे हुए हैं, उनकी माली हालत दिन पर दिन खराब होते जा रहे हैं, इसके लिए नगर पालिक निगम की महापौर हेमासुदेश देशमुख जिम्मेदार है।                                                                                                                    श्री यदु ने आगे बताया कि निगम की माली हालत और कर्मचारियों की माली हालत से महापौर को कोई मतलब नहीं है, अपनी माली हालत सुधारने में व्यस्त रहने वाली महापौर निगम कर्मचारियों की क्या दुख सुख समझेंगे, निगम कर्मचारियों को 2 से 4 महीना वेतन नहीं मिलने के कारण उनकी घर की आर्थिक एवं परिवारिक स्थिति अत्यंत दयनीय स्थिति हो गई है, इसके बाद भी निगम प्रशासन को चिंता है, निगम की  बागडोर संभालने वाली महापौर को चिंता है, ऐसी स्थिति में निगम कर्मचारी अगर अपना काम बंद करके हड़ताल करते हैं, इसके लिए पूर्ण रूप से निगम आयुक्त और महापौर जिम्मेदार रहेंगे।