breaking news New

भाजपा और सपा के बीच शायराना अंदाज में खूब चले तंज भरे तीर, सोशल मीडिया पर साझा

भाजपा और सपा  के बीच शायराना अंदाज में खूब चले तंज भरे तीर, सोशल मीडिया पर साझा

लखनऊ।  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की रविवार को गुफ्तगू करते तस्वीरों को लेकर सत्तापक्ष और विपक्ष के बीच सोशल मीडिया पर शायराना अंदाज में खूब तंज भरे तीर चले।

इसकी शुरुआत दोपहर लगभग साढ़े बारह बजे योगी के उस ट्वीट से हुयी जिसमें उन्होंने मोदी के साथ गुफ्तगू करते अपनी दो तस्वीरें सोशल मीडिया पर साझा कीं। मोदी, एक तस्वीर में योगी के कंधे पर हाथ रखकर बात करते हुये गलियारे से गुजरते हुये नजर आ रहे हैं। इन तस्वीरों के साथ योगी ने एक हिंदी कविता की चंद पंक्तियों का जिक्र करते हुये लिखा, “हम निकल पड़े हैं प्रण करके, अपना तन-मन अर्पण करके, जिद है एक सूर्य उगाना है, अम्बर से ऊँचा जाना है, एक भारत नया बनाना है।”

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री मोदी पुलिस महानिदेशकों के राष्ट्रीय सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिये बीते दो दिनों से लखनऊ में हैं। इस दौरान योगी से हुयी उनकी मुलाकात की तस्वरें सोशल मीडिया पर नुमांया हुयी।

इसके कुछ समय बाद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की प्रदेश इकाई के ट्विटर हेंडिल से योगी के इस ट्वीट को साझा किया गया।

इस पर समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने योगी-मोदी की तस्वीर का जिक्र किये बिना ही शायराना अंदाज में ट्वीट कर तंज कसा। उन्होंने लिखा, “दुनिया की ख़ातिर, सियासत में कभी यूं भी करना पड़ता है, बेमन से कंधे पर रख हाथ, कुछ क़दम संग चलना पड़ता है।”

इसके जवाब में प्रदेश भाजपा ने अखिलेश का एक पुराना वीडियाे साझा किया जिसमें पार्टी के अंदरूनी घमासान के दौरान वह गुस्से में सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव से माइक छीनते दिख रहे हैं। अखिलेश के ट्वीट को टैग करते हुये प्रदेश भाजपा ने इस वीडियो के साथ लिखा, “गद्दी छीनने के लिए सियासत में पार्टी को यूं भी हथियाना पड़ता है, पिता-चाचा जो भी हो, उसको धकियाना पड़ता है।” उन्हें इस वाकये को याद दिलाते हुये यह भी लिखा गया “समझ गए न किसकी बात हो रही है ? याद है न, कहीं भूले तो नहीं ?”

इन दोनों ट्वीट पर सपा और भाजपा के समर्थकों ने सोशल मीडिया पर तस्वीरों वीडियो और शेरो शायरी के साथ एक दूसरे पर जम कर तंज भरे हमले तेज कर दिये।