breaking news New

भाजपा ने कारनामों को छुपाने के लिए सदन की कार्यवाही को रिकॉर्ड करने पर रोक लगाई : आप

भाजपा ने कारनामों को छुपाने के लिए सदन की कार्यवाही को रिकॉर्ड करने पर रोक  लगाई : आप

नयी दिल्ली।  आम आदमी पार्टी (आप) ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) शासित निगम में काले कारनामों छुपाने के लिए दक्षिणी और पूर्वी दिल्ली नगर निगम ने सदन की कार्यवाही को रिकॉर्ड करने या लाइव चलाने पर रोक लगा दी है।

आप के मुख्य प्रवक्ता और ग्रेटर कैलाश से विधायक सौरभ भारद्वाज ने गुरुवार को यहाँ पार्टी मुख्यालय में संवाददाता सम्मेलन में कहा कि मुझे यह जानकर काफी हैरानी हुई है कि निगम ने एक तुगलकी फरमान जारी किया है। उन्होंने कहा है कि दक्षिणी दिल्ली नगर निगम की सदन की बैठक की कार्यवाही को अब कोई भी पत्रकार रिकॉर्ड नहीं कर सकता है। कोई भी पत्रकार उसका लाइव वीडियो नहीं चला सकता है।

उन्होंने कहा कि इसी तरह का तुगलकी फरमान पूर्वी दिल्ली नगर निगम ने भी निकाला है कि कोई भी पत्रकार सदन की कार्यवाही की न तो रिकॉर्डिंग कर सकता है और न ही लाइव कर सकता है।

उन्होंने कहा, चाहे लोकसभा हो, चाहे विधानसभा हो, इनकी जो कार्यवाही होती है, हम सभी जानते हैं कि उसको लाइव दिखाया जाता है। लाइव करने का सबसे बड़ा जो कारण है, वह यह है कि सदन में जो भी कार्यवाही हो रही है वह लोगों द्वारा चुने हुए प्रतिनिधियों की कार्यवाही है और लोगों द्वारा चुने गए प्रतिनिधि उनकी किन-किन समस्याओं को उठा रहे हैं, किन समस्याओं पर चर्चा कर रहे हैं, क्या विकास की योजनाओं पर चर्चा हो रही है, उनका प्रतिनिधि उस पर क्या कह रहा है, लोग यह सब कुछ जानना चाहते हैं।

आप प्रवक्ता ने कहा, हम इस कदम की आलोचना करते हैं। यह संभव नहीं है। ऐसा नहीं हो सकता है। किसी भी सदन के पास इस तरह की इजाजत नहीं है कि आप वहां की कार्यवाही को रिकॉर्ड करने से रोक दें।

दिल्ली विधानसभा की पूरी की पूरी कार्यवाही वेबसाइट के माध्यम से और यूट्यूब के माध्यम से लाइव दिखाई जाती है। लोकसभा की कार्यवाही टीवी पर लाइव दिखाई जाती है। तो यह दिल्ली नगर निगम के जो फैसले हैं, वह पूरी तरह से लोकतंत्र के खिलाफ हैं और पारदर्शिता के जो मूल नियम हैं उनके खिलाफ हैं।