breaking news New

सरकारी अंग्रेजी माध्यम स्कूल में अतिरिक्त सेक्शन बढ़ाने की मांग

सरकारी अंग्रेजी माध्यम स्कूल में अतिरिक्त सेक्शन बढ़ाने की मांग

दूसरे जिलों में की गई है ऐसी व्यवस्था, बंद स्कूलों में प्रवेशित बच्चे भटक रहे है प्रवेश पाने
राजनांदगांव। स्कूल शिक्षा विभाग ने विगत वर्ष 2020-21 में सिर्फ एक स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट इंग्लिश मिडियम स्कूल राजनांदगांव जिले के म्युनिस्पल स्कूल में आरंभ किया गया है और इस स्कूल में भारी संख्या में प्रायवेट अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों को छोड़कर बच्चों ने प्रवेश लिया था और इस वर्ष भी ऐसी ही स्थिति निर्मित हो रही है, लेकिन स्वामी आत्मानंद स्कूल में कक्षा पहली को छोड़ बाकी कक्षाओं में सीटे रिक्त नहीं है। जिसको लेकर छत्तीसगढ़ पैरेंट्स एसोसियेशन ने कलेक्टर और डीईओ को पत्र लिखकर कक्षाओं में अतिरिक्त सेक्शन बढ़ाने की मांग किया गया है, ताकि ज्यादा से ज्यादा बच्चों को इस स्कूल में इस वर्ष प्रवेश दिलाया जा सके।
राज्य सरकार की भी यही मंशा है कि प्रायवेट विद्यालयों से यदि बच्चे सरकारी स्कूलों में प्रवेश पाना चाह रहे है तो इसकी व्यवस्था किया जावे, चूंकि सरकार की इंग्लिश मिडियम स्कूल की संख्या कम है और राजनांदगांव शहर में सिर्फ एक ही उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल आरंभ हुआ है, और इस वर्ष भी भारी संख्या में प्रायवेट इंग्लिश मिडियम स्कूलों से बच्चे इस स्कूल में प्रवेश पाने के इच्छुक है, इसलिए पैरेंट्स एसोसियेशन के प्रदेश अध्यक्ष क्रिष्टोफर पॉल का कहना है कि इस स्कूल के कक्षाओं में अतिरिक्त सेक्शन बढ़ाया जाना चाहिए, क्योंकि ऐसी व्यवस्था अन्य जिलों में भी किया गया है।
श्री पॉल ने बताया कि शहर में कुछ प्रायवेट इंग्लिश मिडियम स्कूल बंद हो चुके है और इन स्कूलों में प्रवेशित बच्चें विगत एक वर्ष से दूसरे सरकारी इंग्लिश मिडियम स्कूलों में प्रवेश पाने भटक रहे है और कई पालकों ने इस संबंध में कलेक्टर और डीईओ को अनेकों लिखित आवेदन भी दिया था, लेकिन इन बच्चों को आज तक किसी दूसरे स्कूलों में प्रवेश नहीं दिलाया जा सका है, जो चिंता का विषय है।