breaking news New

प्रभारी सचिव ने धान खरीदी केंद्र पेंड्री का निरीक्षण किया

प्रभारी सचिव ने धान खरीदी केंद्र  पेंड्री का निरीक्षण किया


 धान की स्टैकिंग सही लगाने और  ड्रेनेज बनाने के दिए निर्देश,

सक्ती/ जांजगीर-चांपा, 8 जनवरी । छत्तीसगढ़ शासन के उच्च शिक्षा एवं जिले के प्रभारी सचिव श्री धनंजय देवांगन ने आज जिला मुख्यालय के समीप पेंड्री धान उपार्जन केंद्र और खोखरा के गौठान का निरीक्षण किया। प्रभारी सचिव ने पेंड्री धान उपार्जन केंद्र में खरीदे गए धान को व्यवस्थित रूप से रखने और पुख्ता ड्रेनेज व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि चबूतरे के अलावा नीचे रखे धान का उठाव सबसे पहले करें ।  ताकि वह धान सुरक्षित हो सके । साथ ही बेमौसम बारिश की संभावना को देखते हुए सभी आवश्यक तैयारी तिरपाल आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करने कहा । उन्होंने धान खरीदी केंद्र के नोडल अधिकारी सांख्यिकी विभाग के सहायक संचालक मनीष मिश्रा से कहा कि खरीदी केंद्र का नियमित रूप से निरीक्षण करें और सरकार के निर्देशानुसार व्यवस्था सुनिश्चित करें ।  

श्री देवांगन ने खरीदे गए धान के 2 बोरों का  वजन कराकर उसकी जांच की । सही वजन पाए जाने पर संतोष व्यक्त किया । उन्होंने कंप्यूटर ऑपरेटर से टोकन जारी करने के संबंध में अपनाए गए प्रक्रिया की जानकारी ली और निर्देशित किया कि सरकार के निर्देशानुसार 80% छोटे किसान और 20% बड़े किसानों के अनुपात में टोकन जारी किया जाए। उन्होंने कहा कि केंद्र की क्षमता के अनुसार ही टोकन जारी किया जाए जिससे व्यवस्थित रूप से तौलाई का कार्य निर्धारित तिथि को पूर्ण हो।  निरीक्षण के दौरान कलेक्टर श्री यशवंत कुमार जिला पंचायत सीईओ श्री तीर्थराज अग्रवाल संयुक्त कलेक्टर एवं धान खरीदी के नोडल अधिकारी श्री सचिन भूतड़ा जिला खाद्य अधिकारी ,सहकारी बैंक के नोडल अधिकारी सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

     श्री देवांगन ने उपार्जन केंद्र निरीक्षण के बाद खोखरा के गौठान व बाड़ी का अभी अवलोकन किया। गौठान से जुड़े स्व सहायता समूह के पदाधिकारियों से चर्चा की । उन्होंने कहा कि शासन की योजना के अनुसार आर्थिक रूप से सक्षम बनाने के लिए स्व सहायता समूह को  काम उपलब्ध कराया गया है। आर्थिक लाभ के उद्देश्य से कार्य करें । बाजार की मांग और व्यवसायिक समझ के साथ कार्य करें। उत्पाद अगरबत्ती फिनाइल वाशिंग पाउडर आदि को बाजार  मैं आकर्षक पैकिंग में उपलब्ध कराएं। उन्होंने कहा कि उत्पादन के साथ उसके बाजार में उपलब्ध कराने में ज्यादा जोड़ दें ताकि लाभ अधिक हो सके उन्होंने स्व सहायता समूह द्वारा बनाए गए सामग्री उत्पादित किए गए सब्जी, मशरूम, वर्मी कंपोस्ट खाद का निरीक्षण किया उन्होंने महिलाओं से चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के संबंध में जानकारी दी । 

उन्होंने सभी महिलाओं से संकल्प दिलाया कि अपने परिवार की गर्भवती महिलाओं को पौष्टिक और पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराने में प्राथमिकता दें ।  प्रतिदिन भोजन के समय गर्भवती महिलाओं को पहले भोजन कराएं । शासन की योजना के तहत उपलब्ध कराए गए पोष्टिक आहार का लाभ गर्भवती महिलाओं को मिले यह सुनिश्चित किया जाए । श्री देवांगन ने पशुधन विकास विभाग के चिकित्सा अधिकारियों से कहा कि गौठान में आने वाले पशुओं का स्वास्थ्य पर सतत नजर रखे।  आवश्यकता अनुसार उपचार की व्यवस्था करें साथ ही कृत्रिम गर्भाधान और टीकाकरण का कार्य भी सत प्रतिशत हो यह सुनिश्चित किया जाए।